Home » इंडिया » CBSE Paper leak: supreme court hearing on 4 April on 3 petition against cbse revised paper
 

CBSE Paper leak: सुप्रीम कोर्ट 4 अप्रैल को दोबारा एग्जाम कराने पर ले सकता है फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 April 2018, 14:14 IST

सीबीएसई पेपर लीक के मामले में छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया. छात्रों को सुप्रीम कोर्ट के दोबारा पेपर कराने से आपत्ति थी. पूरे देश में सीबीएसई पेपर लीक का कड़ा विरोध हो रहा है. चारों तरफ छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं. इस मामले में अब तक तीन याचिकाएं डाली चुकी है. इन याचिकाओं पर सुनवाई 4 अप्रैल को की जाएगी. पहली याचिका में मांग की गयी है कि दोबारा परीक्षा न करवाकर पुरानी परीक्षा के आधार पर ही रिज़ल्ट घोषित किया जाये.

दीपक कंसल ने इस याचिका को दायर किया है और पेपर लीक मामले की जांच सीबीआइ से कराए जाने की भी मांग की. याचिका में कंसल ने मामले की जांच सीबीआई को देने के साथ ही तथ्यों और परिस्थितियों की गहराई से जांच करने के लिए विशेष उच्चस्तरीय समिति गठित करने की मांग की है.

ये भी पढ़ें- CBSE पेपर लीक: सुप्रीम कोर्ट पहुंचा छात्र, दोबारा परीक्षा कराने के खिलाफ दायर की याचिका

दूसरी याचिका केरल के शहर कोचीन के 10वीं के छात्र रोहन मैथ्यू ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की है.जिसमें सीबीएसई के फैसले को रद्द करने और बोर्ड की हो चुकी परीक्षा के आधार पर रिजल्ट घोषित करने की मांग की गयी है. रोहन ने अपनी अर्जी में कहा है कि परीक्षा दोबारा होना छात्रों के साथ न्याय नहीं है.

तीसरी अर्जी वकील अलख आलोक श्रीवास्तव ने दाखिल की है और इस पेपर लीक की सीबीआई से जांच की मांग की है. साथ की कहा है कि हर प्रभावित छात्र को एक-एक लाख रुपये मुआवजा दिया जाए. सभी याचिकाओं की सुुनवाई सुप्रीम कोर्ट में चार अप्रैल को होगी. इन याचिकाओं के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट 4 अप्रैल को सुनवाई करेगी.

ये भी पढ़ें- CBSE पेपर लीक : विसलब्लोअर का दावा, पॉलिटिकल साइंस का पेपर भी हुआ था लीक

First published: 2 April 2018, 13:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी