Home » इंडिया » central minister Upendra Kushwaha meet lalo yadav in AIIMS shares photo in tweet
 

लालू से मिले मोदी के मंत्री, गर्म हुआ सियासी माहौल

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 March 2018, 9:48 IST

चारा घोटाले में रांची जेल में सजा काट रहे लालू यादव को इलाज के लिए दिल्ली लाया गया. दिल्ली के एम्स में लालो यादव का इलाज चल रहा है. इसी बीच केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा लालू की तबियत का हाल पूछने पहुंच गए. इस खबर ने सियासी अटकलों को हवा दे दी है. हालचाल पूछने एम्स पहुंचे उपेंद्र कुशवाहा ने अपनी और लालू की फोटो ट्विटर पर शेयर करते हुए इस बात की जानकारी दी.

 

इसी बाीच केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा लालू का इसके बाद से सोशल मीडिया पर उनके पार्टी से अलग होने की अटकलें भी शुरू हो गई हैं. गौरतलब है कि उपेंद्र कुशवाहा राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के संस्थापक हैं.

उनकी पार्टी RLSP केंद्र की एनडीए सरकार में भागीदार है. उनकी लालू से की गई मुलाकात ने एक बार फिर यह सवाल खड़ा कर दिया है कि क्या उनकी पार्टी एनडीए से अलग हो सकती है?

ये भी पढ़ें- कर्नाटक विधानसभा चुनाव: सिद्धारमैया का पलटवार, अमित शाह बताएं कि वो 'हिंदू' हैं या 'जैन

 

लालू यादव को 17 मार्च को बेचैनी की शिकायत के चलते लालू को राजेद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में भर्ती कराया गया था. इसके बाद रिम्स ने लालू को दिल्ली के अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान (एम्स) के लिए रेफर कर दिया. उन्हें गुरूवार को दिल्ली लाया गया. सीबीआई की विशेष अदालत से अनुमति लेकर वह इलाज के लिए ट्रेन से दिल्ली आए. डॉक्टर्स ने उन्हें विमान की बजाय ट्रेन से जाने की सलाह दी थी क्योंकि उनकी हालत विमान से सफर करने की नहीं थी. हालांकि एम्स के पांच चिकित्सकों की विशेष टीम ने लालू का उपचार शुरू कर दिया है.

दुमका मामले में 14 साल की सजा
24 मार्च को चारा घोटाला से जुड़े छह मामलों में से दुमका कोषागार के चौथे मामले में लालू यादव को 14 साल की जेल और 60 लाख रुपये का जुर्माने की सजा सुनाई गई. घोटाले से जुड़े अब तक के चारों मामलों में आरजेडी प्रमुख को मिली ये अब तक की सबसे बड़ी सजा है. इससे पहले 24 जनवरी को कोर्ट ने पांच साल की सजा सुनाई थी.

First published: 30 March 2018, 9:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी