Home » इंडिया » Centre Govt to like 2 percent dearness allowance for central employees & pensioners
 

केंद्रीय कर्मचारियों का 2 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ा सकती है सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 March 2017, 19:09 IST

नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता फिर से बढ़ाने वाली है. उम्मीद जताई जा रही है कि इस बार महंगाई भत्ते की दर में 2 से 4 फीसदी के बीच ईजाफा किया जा सकता है.

केंद्र सरकार का यह फैसला करीब 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 58 लाख पेंशनभोगियों को लाभ पहुंचाएगा. गौरतलब है कि पिछली बार सरकार ने महंगाई भत्ते में 6 फीसदी का ईजाफा किया था.

हालांकि इस बार कर्मचारी संघ इस प्रस्तावित बढ़ोतरी से बहुत खुश नजर नहीं आ रहा है. मजदूर यूनियन के मुताबिक इस बढ़ोतरी से महंगाई के प्रभाव की पूर्ति नहीं हो सकेगी.

केंद्रीय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष केकेएन कुट्टी ने अपने विचार रखते हुए बताया, "केंद्र सरकार की महंगाई भत्ते में दो फीसदी ईजाफे की योजना है. यह 1 जनवरी 2017 से प्रभावी होगी." उन्होंने इस फैसले पर अपनी नाखुशी जाहिर की.

इस बाबत केकेएन कुट्टी ने आगे कहा कि जिस कीमतों में कितनी बढ़ोतरी हुई है उसको लेकर श्रम ब्यूरो और कृषि मंत्रालय में अंतर हैं. सहमति वाले फॉर्मूले के तहत केंद्र महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी खुदरा मुद्रास्फीति के 12 माह के औसत आधार पर करती है.

सरकार दशमलव बिंदु के बाद मूल्यवृद्धि पर विचार नहीं करता. ऐसे में यह बढ़ोतरी 2.95 फीसदी बैठने के बावजूद सरकार महंगाई भत्ते को केवल दो फीसदी बढ़ा रही है.

गौरतलब है कि सरकारों द्वारा कर्मचारियों को महंगाई से राहत दिलाने के उद्देश्य से साल में दो बार महंगाई भत्ते की बढ़ोतरी की जाती है.

फिलहाल केंद्रीय कर्मचारियों को 2 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है और इसी साल 1 जनवरी 2017 से सरकार ने 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू किया है. इसमें ही पिछला महंगाई भत्ता शामिल कर दिया गया था.

First published: 5 March 2017, 19:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी