Home » इंडिया » Centre: PM Modi did not cut any deal of any sort with Italy in Agusta Westland
 

केंद्र सरकार: पीएम मोदी की इटली से कोई गुप्त डील नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2016, 12:10 IST

केंद्र सरकार ने इस आरोप को खारिज कर दिया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगस्ता वेस्टलैंड मामले पर इटली की सरकार से कोई गुप्त सौदा किया है. सरकार की तरफ से इस मामले पर सफाई दी गई है.

सरकार का कहना है कि मुख्य मुद्दा भ्रष्टाचार है और इस पर ध्यान भटकाने का कोई भी दूसरा प्रयास 'गुमराह करने वाला' है. सरकार की ओर से कहा गया है कि उनका इकलौता लक्ष्य देश का विकास और सुरक्षा का विस्तार है.

deal

सरकार ने शुक्रवार देर रात जारी एक बयान में कहा, "जो लोग प्रधानमंत्री को सफल होते नहीं देख सकते हैं वे उन पर एक सौदा करने का संकेत दे रहे हैं. इसका सच्चाई से कुछ भी लेना-देना नहीं है. प्रधानमंत्री मोदी ने इस तरह का कोई सौदा नहीं किया है."

बदनाम करने की कोशिश !


सरकार ने साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र को एक आरोपी से जोड़ने के प्रयासों को भी 'पूरी तरह से निराधार दावा और दुर्भावनापूर्ण इरादे का संकेत' करार दिया.

पढ़ें:अगस्ता वेस्टलैंडः भाजपा के ईंट का जवाब पत्थर से दे रही कांग्रेस


सरकार ने कहा कि कुछ लोगों ने एक आरोपी को डोभाल और मिश्र से भी जोड़ने की कोशिश की. ये पूरी तरह से बेबुनियाद दावा है, इसमें कोई तार्किकता नहीं है और यह बदनाम करने के इरादे का संकेत है. वास्तव में ऐसा कोई संबंध है ही नहीं.

new deal 2

बयान में कहा गया है कि ये वास्तव में दुखद है कि भारतीय राजनीति के एक छोटे से वर्ग ने सार्वजनिक चर्चा का ध्यान भटकाने और उसे शांत करने का 'असफल' प्रयास किया है.

सरकार ने बयान में कहा कि वे सरकार की प्रक्रियाओं की गति पर सवाल करते हैं, विशेष तौर पर जांच लेकिन वे यह नहीं पूछते कि भ्रष्टों ने पहले कैसे खरीद प्रक्रिया को प्रभावित किया और देश को नुकसान पहुंचाया. 

'सरकार सामने लाएगी सच'


सरकार की तरफ से कहा गया, "वे भ्रष्टाचार स्वीकार नहीं करते, इसके बजाय वे निर्भीकता से कहते हैं कि यदि पकड़ सकते हो तो हमें पकड़ो." 

पढ़ें:अगस्ता वेस्टलैंड मामला: स्वामी ने लिया सोनिया का नाम, संसद में संग्राम

बयान में कहा गया है कि सरकार ने सच्चाई बाहर लाने के लिए प्रभावी कदम उठाया है और इस मामले में दोषियों को न्याय के कठघरे में लाने के लिए कोई भी कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी.

सरकार ने कहा है कि जांच एजेंसियां इस पाप के प्रमुख अपराधियों को देश के भीतर और बाहर दोनों को न्याय के कठघरे में लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.
First published: 1 May 2016, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी