Home » इंडिया » Chandrayaan-2: Indian engineer Shanmuga Subramanian found vikram lander and alert NASA
 

चंद्रयान-2: अमेरिकी एजेंसी NASA ने नहीं बल्कि भारत के इस इंजीनियर ने खोजा विक्रम लैंडर

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 December 2019, 13:57 IST

Chandrayaan 2: इसरो(ISRO) के महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई. NASA ने जानकारी दी कि चंद्रयान-2 के क्रैश हुए लैंडर विक्रम का मलबा मिला है. एक भारतीय इंंजीनियर ने इस मलबे को खोजा है. इंजीनियर ने अमेरिका के ऑर्बिटिंग कैमरा से चंद्रमा की तस्वीरों का निरीक्षण किया. इस दौरान नासा (NASA) ने बताया कि उसे विक्रम लैंडर का दुर्घटनास्थल और मलबा मिला.

भारतीय इंजीनियर का नाम शनमुगा सुब्रमण्यम है. उन्होंने खुद लूनर रिकनाइसांस ऑर्बिटल कैमरा से यह तस्वीरें डाउनलोड कीं. नासा और एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी ने इसकी पुष्टि की. इस मलबे की तलाश काफी समय से वैज्ञानिक कर रहे थे. सुब्रमण्यम ने इसका पता लगा लिया, उन्होंने वैज्ञानिकों को वह जगह खोजने में मदद की, जहां विक्रम लैंडर क्रैश हुआ था. 

नासा ने मंगलवार को बताया कि विक्रम लैंडर का मलबा मिल गया है. नासा ने जहां लैंडर क्रैश हुआ था उस जगह की तस्वीर भी जारी की है. नासा ने बयान में कहा, "शनमुगा ने सबसे पहले मैन क्रैश साइट से लगभग 750 मीटर उत्तर पश्चिम में मलबा देखा."

दूसरी तरफ भारतीय इंजीनियर सुब्रमण्यम ने बताया कि उन्होंने विक्रम लैंडर का संभावित मार्ग खोजने में कड़ी मेहनत की. इस उपलब्धि से वह बहुत खुश हैं. उन्होंने कहा कि मुझे बहुत मेहनत करनी पड़ी. सुब्रमण्यम को हमेशा से अंतरिक्ष विज्ञान का शौक रहा है. उन्होंंने कहा कि मैंने कभी भी कोई लॉन्च नहीं छोड़ा.

FASTag लगाने की अंतिम तारीख 15 दिसंबर तक बढ़ाई गई

VIVO-V17 भारत में 9 दिसंबर को होगा लॉन्च, ये हैं फीचर्स

First published: 3 December 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी