Home » इंडिया » Chandrayaan 2: PM Modi interacted with the students from across the country at ISRO
 

ISRO में छात्र ने कहा- मैं राष्ट्रपति बनना चाहता हूं, इस पर PM मोदी का जवाब आपको सुनना चाहिए

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 September 2019, 13:27 IST

देश के लिए शनिवार की सुबह ऐतिहासिक होने वाली थी लेकिन चंद्रयान 2 के लैंडर विक्रम का चंद्रमा के सतह से मात्र 2.1 किलोमीटर पहले इसरो से संपर्क टूट गया. इसके बाद इसरो के वैज्ञानिकों में निराशा छा गई. इसरो सेंटर में लोगों के मुंह उतर गए थे. जिसके बाद पीएम मोदी ने उन सबका हौसला बढ़ाया.

पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों और सेंटर में मौजूद लोगों से कहा कि जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है और देश आप पर गर्व करता है. उन्होंने वैज्ञानिकों से हौसला बनाए रखने की बात कही.

 

इसरो में प्रधानमंत्री के साथ लैंडिंग देखने के लिए देशभर के 70 से अधिक विद्यार्थी मौजूद थे. पीएम मोदी ने विद्यार्थियों के साथ बातचीत भी की और उनके सवालों का जवाब दिया. इस दौरान एक छात्र ने पीएम मोदी से कहा कि वह भविष्य में देश का राष्ट्रपति बनना चाहता है. इस पर पीएम मोदी ने जो जवाब दिया उसने माहौल को हल्का बनाने में बहुत मदद की.

पीएम मोदी ने उस छात्र की पीठ थपथपाई और मजाकिया लहजे में कहा कि आप राष्ट्रपति क्यों प्रधानमंत्री क्यों नहीं बनना चाहते? इसके बाद वहां मौजूद सारे छात्र हंसने लग गए. फिर पीएम मोदी ने  उस छात्र को ऑटोग्राफ भी दिया. चंद्रयान 2 की लैंडिंग देखने भूटान के छात्र भी इसरो आए थे. पीएम मोदी ने उनसे कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि आपने यहां नए दोस्त बनाए होंगे. 

Video: PM मोदी को पकड़कर फूट-फूटकर रोने लगे ISRO चीफ, देखकर आपकी आंखें भी हो जाएंगी नम

Chandrayaan 2: वैज्ञानिकों के लटके थे चेहरे, PM मोदी ने बढ़ाया हौसला, कहा- देश को आप पर गर्व

First published: 7 September 2019, 13:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी