Home » इंडिया » Chhattisgarh Election 2018: Over Naxal attacks a 100 years old woman cast her vote in Dornapal
 

नक्सली हमलों के खौफ पर भारी पड़ा 100 साल की वृद्ध महिला का हौसला, 'नक्सलगढ़' में डाला वोट

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 November 2018, 10:25 IST

नक्सल प्रभावी इलाके छत्तीसगढ़ में आज सुबह से मतदान शुरू हो चुके हैं. नक्सली हमले के खतरे के बीच एक 100 साल की बुजुर्ग महिला ने लोकतंत्र पर विश्वास और हौसले की नई इबारत लिखी. नक्सलियों के बहिष्कार के बाद से इलाके में काफी तनाव का माहौैल है. यहां तक की नक्सलियों ने आज सुबह ही वोटिंग कराने जा रहे एक पोलिंग पार्टी के साथ सुरक्षा बलों को निशाना बनाते हुए IED ब्लास्ट कर दिया. इसके पहले चुनाव के ठीक एक दिन पहले नक्सलियों ने लगातार एक के बाद एक 6 IED ब्लास्ट किए.

इस तनाव के माहौल में भी एक 100 साल की वृद्ध महिला ने नक्सल प्रभावित इलाके सुकमा में अपना मैदान अधिकार का प्रयोग करते हुए अपना वोट डाला. गौरतलब है कि नक्सल प्रभावित इलाके में आज चुनावों को निष्पक्ष और शांतिपूर्ण रूप से कराना सुरक्षा बलों के लिए बड़ी चुनौती है.

चुनाव रोकने के लिए नक्सलियों ने सुबह फिर किया IED ब्लास्ट, पोलिंग पार्टी को बनाया निशाना

इसके लिये आज राज्य की 18 सीटों पर होने वाले मतदान की सुरक्षा व्यवस्था कुल 1 लाख हथियारबंद जवानों के हाथों में हैं. राज्य में चुनाव को सुरक्षित और निष्पक्ष रूप से कराने के लिए केंद्र से लगभग 65 हजार जवानों को यहां भेजा गया है. जिनमें अर्धसैनिक बल और पुलिस बल के जवान शामिल हैं.

सुरक्षा के लिए तथा पड़ोसी राज्यों की पुलिस के साथ भी बेहतर तालमेल बनाकर अभियान चलाया जा रहा है. कुल मिलकर इस समय चुनावों कार्यों के लिए 1 लाख जवानों को सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई है. संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने के लिए मोबाइल चेक पोस्ट भी बनाए गए हैं.

First published: 12 November 2018, 10:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी