Home » इंडिया » chhattisgarh: judge wife suicide on residence
 

छत्तीसगढ़: जज की बीवी का शव पंखे से लटका मिला

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2016, 17:44 IST

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में अपर सत्र न्यायाधीश मानवेंद्र सिंह की पत्नी रंजना दीवान ने 12 मई की रात में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली.

रंजना दीवान का शव संदेहास्पद परिस्थितियों में उनके सरकारी आवास के बेडरूम में पंखे से लटका पाया गया. घटना की सूचना पुलिस को मानवेंद्र सिंह ने देर रात में दी. 

दंतेवाड़ा में थीं वकील


रंजना दीवान भी दंतेवाड़ा में शासकीय अधिवक्ता थीं. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि गुरुवार की शाम रंजना कोर्ट से घर आईं और सीधे अपने कमरे में चली गई.

इसके बाद नौकर अर्जुन ने चाय लेकर रंजना के कमरे का दरवाजा खटखटाया, लेकिन दरवाजा नहीं खुला.

इसके बाद जब रात में खाने के लिए उसने दोबारा दरवाजा खटखटाया और जब रंजना की ओर से कोई जवाब नहीं मिला, तो उसने इस बात की सूचना उनके पति मानवेंद्र सिंह को दी.

इसके बाद मानवेंद्र सिंह ने जब खिड़की से झांका तो देखा कि रंजना का शव पंखे से लटका पड़ा था. मानवेंद्र सिंह ने तत्काल ही घटना की सूचना फोन पर जिला जज और पुलिस को दी.

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे एएसपी गोरखनाथ बघेल ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और फॉरेंसिक जांच के लिए कमरे को सील कर दिया. 

कोई सुसाइड नोट नहीं मिला


इस मामले में बघेल ने कहा कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का लग रहा है, लेकिन कोई सुसाइड नोट नहीं मिलने के कारण हम घटना के विभिन्न पहलुओं पर भी गौर कर रहे हैं.

बताया जा रहा है कि मानवेंद्र सिंह और रंजना दीवान एक साथ बिलासपुर कोर्ट में वकालत किया करते थे. उसी दौरान दोनों ने शादी कर ली.

शादी के कुछ ही दिनों के बाद मानवेंद्र सिंह की नियुक्ति अपर सत्र न्यायाधीश के पद पर दंतेवाड़ा में हो गई और दोनों दंतेवाड़ा चले आए.

मानवेंद्र सिंह के करीबियों ने बताया कि रंजना और मानवेंद्र को बच्चा नहीं था. इसकी वजह से रंजना अक्सर तनाव में रहती थीं. 

First published: 13 May 2016, 17:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी