Home » इंडिया » chhattisgarh: naxal bharat gawade surendar in raipur
 

छत्तीसगढ़: 5 लाख रुपये के इनामी नक्सली भारत गावड़े ने किया सरेंडर

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2017, 8:18 IST
(पत्रिका)

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पांच लाख रुपये के इनामी नक्सली ने मंगलवार को पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ शासन की आत्समर्पण नीति से प्रभावित होकर पांच लाख रुपये के इनामी नक्सली सत्तेर उर्फ मंगेल उर्फ भारत गावड़े ने एसआईबी मुख्यालय रायपुर में पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया.

सत्तेर उत्तर बस्तर डिवीजन के अंतर्गत रावघाट एरिया कमेटी के पानीडोबरी एलओएस का सदस्य है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सत्तेर वर्ष 2003 में नक्सली संगठन में भर्ती हुआ था.

पुलिस के मुताबिक वह लगातार कांकेर और राजनांदगांव क्षेत्र में सक्रिय रहा है. वह पूर्व में नक्सली नेता मड़कम गोपन्ना के गार्ड और सुखदेव उर्फ मालू उर्फ गुड्सा उसेंडी के गार्ड के रूप में काम कर चुका है.

उन्होंने बताया कि सत्तेर इसके अलावा रावघाट एरिया कमेटी के अंतर्गत पानीडोबरी एलओएस सदस्य एवं प्लाटून नंबर 23 के कमांडर के रूप में भी काम कर चुका है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सत्तेर का महिला नक्सली अरुणा के साथ प्रेम संबंध था, लेकिन जब नक्सली नेताओं को इस बात की जानकारी मिली, तब उन्होंने दोेनों को प्रताड़ित किया. उसके बाद नक्सली अरुणा ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था.

उन्होंने बताया कि नक्सली सत्तेर वर्ष 2008 में बालोद जिले में विस्फोट की घटना में सीआईएसएफ के तीन जवानों की हत्या, साल 2010 में महाराष्ट्र के खोब्रामेढ़ा में छह सुरक्षा कर्मियों को घायल करने की घटना और इस वर्ष ग्रामीणों की हत्या में शामिल होने का आरोप है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली सत्तेर से पूछताछ पर कांकेर और राजनांदगांव क्षेत्र के नक्सली संगठन के बारे में कई महत्वपूर्ण जानकारी मिली है. आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली को पुनर्वास नीति के तहत सुविधाएं दी जाएंगी.

First published: 31 August 2016, 12:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी