Home » इंडिया » Chidambaram gets interim protection to SC till Monday in ED case
 

चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत : 26 अगस्त तक ईडी नहीं कर पाएगी गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 August 2019, 14:05 IST

सुप्रीम कोर्ट ने INX मीडिया मामले में पी. चिदंबरम को बड़ी राहत दी है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ईडी 26 अगस्त तक चिदंबरम को गिरफ्तार नहीं कर पाएगी. चिदंबरम पहले ही सीबीआई की हिरासत में हैं और एक व्यक्ति को दो एजेंसियों द्वारा एक साथ गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है.

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने बड़ा दिल्ली हाईकोट पर आरोप लगाते हुए कहा  ''जब बहस खत्म हो गई थी तब सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाई कोर्ट के जस्टिस सुनील गौड़ को एक नोट दिया था, जिसपर हमें जवाब देने का मौका नहीं मिला''. हालांकि कपिल सिब्बल के इस बयान का सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने खंडन किया.


सिब्बल ने कहा ''दिल्ली हाई कोर्ट का फैसला सॉलिसिटर जनरल द्वारा दिए गए नोट से मिलता-जुलता है. सबकुछ उसी से कॉपी किया गया है, इसी के आधार पर चिदंबरम को बेल नहीं मिली''. अब सुप्रीम कोर्ट में सोमवार 26 अगस्त को सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय दोनों की फिर से सुनवाई होनी है.

इस दौरान अभिषेक मनु सिंघवी ने पूछा कि ''हाई कोर्ट के जज ने लिखा है कि संसद को चाहिए कि आर्थिक अपराध के मामले में हाई प्रोफाइल आरोपियों के लिए अग्रिम जमानत का प्रावधान खत्म करने का कानून बनाएं, तो क्या प्रोफाइल देखकर कानून बनेगा?'' सुप्रीम कोर्ट पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम द्वारा दायर दो याचिकाओं की सुनवाई कर रहा है. इन याचिकाओं में लिए दिल्ली उच्च न्यायालय के उस आदेश को चुनौती दी, जिसमें आईएनएक्स मीडिया मामले में उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी.

सीबीआई और ईडी द्वारा आईएनएक्स मीडिया से जुड़े कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के दो मामलों में चिदंबरम की जांच की जा रही है. चिदंबरम को सीबीआई की हिरासत में चार दिन के लिए 26 अगस्त गुरुवार को रिमांड पर लिया गया है.

इस कानून के तहत पी चिदंबरम बनाए गए आरोपी, हो सकती है सात साल की सजा

First published: 23 August 2019, 13:18 IST
 
अगली कहानी