Home » इंडिया » chief minister Ashok Gehlot- Government toppling game is set to begin in Rajasthan and Maharashtra
 

अशोक गहलोत ने लगाया आरोप- बीजेपी कर रही राजस्थान और महाराष्ट्र में सरकार गिराने की कोशिश, अमित शाह ने की विधायकों से मुलाकत

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 December 2020, 20:42 IST

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर एक बार फिर राज्य में सराकर को अस्थिर करने के आरोप लगाए हैं. शानिवार को वीडियो कॉन्फ्रेन्स के जरिये सिरोही में कांग्रेस दफ्तर का उद्घाटन करने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य में सरकार गिराने का फिर से खेल शुरू होने वाला है. महाराष्ट्र में भी सरकार गिराने की चर्चाएं हैं. बता दें, अशोक गहलोत ने यह आरोप ऐसे समय लगाए हैं जब राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं हो रही हैं.

News18.com की रिपोर्ट के अनुसार, अशोक गहलोत ने कहा,"अजय माकन उस घटना के साक्षी रहे हैं. जब हमारे विधायक 34 दिनों के लिए होटल में थे, तो वे अमित शाह से मिले, और धर्मेंद्र प्रधान उनके साथ एक घंटे तक बैठे रहे. हमारे विधायकों ने आकर हमें बताया था कि वे शाह को देखकर शर्मिंदा हैं."


अशोक गहलोत ने देश के गृहमंत्री अमित शाह पर आरोप लगाते हुए कहा,"हमारे विधायकों को बैठाकर चाय-नमकीन खिला रहे थे और बता रहे थे कि पांच सरकार गिरा दी है, छठी भी गिराने वाले हैं. धर्मेंद्र प्रधान उनका मनोबल बढ़ाने के लिए जजों से बातचीत करने की बातें कर रहे थे." अशोक गहलोत ने दावा किया कि अमित शाह ने कांग्रेस विधायकों के साथ एक घंटे तक मुलाकात की थी और इस दौरान उन्होंने सरकार गिराने की बात कही थी.

अशोक गहलोत ने आगे कहा,"इस घटनाक्रम के दौरान कांग्रेस नेता अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे यहां आकर बैठ गए. इन्होंने नेताओं को बर्खास्त करने का फैसला किया, तब जाकर सरकार बची. पूरे राजस्थान की जनता चाहती थी कि सरकार गिरनी नहीं चाहिए. प्रदेश के लोग कांग्रेस विधायकों को फोन कर कह रहे थे कि सरकार गिरनी नहीं चाहिए. लोग कह रहे थे कि चाहे दो महीने लग जाए लेकिन सरकार नहीं गिरनी चाहिए." बता दें, अशोक गहलोत के इन बयानों को राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट पर निशाने के तौर पर देखा जा रहा है.

दूसरी तरफ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के इन आरोपों पर राजस्थान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी पलटवार किया है. पुनिया ने कहा,"अशोक गहलोत शासन चला पाने में अक्षम हैं इसलिए झूठा और तथ्यहीन आरोप लगा रहे हैं. कांग्रेस के अंदर घर में अंदरूनी झगड़ा है जिसकी वजह से वह परेशान है, इसके लिए BJP पर बिना कोई सुबूत के आरोप लगाकर हमला बोल रहे हैं."

सतीश पूनिया ने आगे कहा,"अशोक गहलोत सरकार गिराने को लेकर रोज़ भेड़िया आया- भेड़िया आया की तरह नई- नई कहानियां लेकर आ जाते हैं. इनकी सरकार में इतना झगड़ा है कि यह BJP के नेताओं को दोष दे कर अपना झगड़ा छुपाना चाहते हैं."

IMA scam: पूर्व कांग्रेस मंत्री रोशन बेग को मिली जमानत, अदालत ने रखी ये शर्तें

First published: 5 December 2020, 20:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी