Home » इंडिया » china army inter in indian territory
 

भारतीय सीमा में घुसे चीन के जवानों को मिली चॉकलेट

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 June 2016, 10:55 IST
(एजेंसी)

अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर गुरुवार को भारतीय सेना और चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के जवानों के बीच झड़प हुई.

बताया जा रहा है कि यह झड़प उस वक्त हुई, जब अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर 276 चीनी सैनिक अलग-अलग जगहों से अपने क्षेत्र को पार करके भारतीय क्षेत्र में घुस आए.

आधिकारिक ब्यौरे के मुताबिक अरुणाचल प्रदेश के यांग्त्से इलाके में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर शंकर टिकरी में ये घुसपैठ हुई. पीएलए का दावा था कि यह क्षेत्र चीन का है. इस इलाके की सुरक्षा भारतीय सेना करती है.

भारतीय सेना ने तुरंत कार्रवाई की और चीनी सैनिकों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए अपने जवानों को भेजा. बताया जा रहा है कि करीब 215 चीनी सैनिकों ने शंकर टिकरी में आगे बढ़ने का प्रयास किया.

इसके साथ ही 20-20 सैनिकों ने अरुणाचल के थांग ला और मेरा गाप से तथा 21 अन्य सैनिकों ने यांकी से बढ़ने का प्रयास किया.

इस मामले में सेना के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि नियमित बैनर ड्रिल के दौरान चीनी सैनिकों ने भारतीय सैनिकों पर हमले का भी प्रयास किया, लेकिन उन पर काबू पा लिया गया.

सूत्रों ने बताया कि सेना ने आधिकारिक रूप से रिपोर्ट दी है कि सेना और पीएलए के बीच शंकर टिकरी में सिर्फ मामूली झड़प हुई.

शांतिपूर्वक लौटे चीनी सैनिक

भारतीय सेना और चीनी सैनिकों के बीच यह तनाव कथित रूप से तब दूर हुआ, जब चीनी सेना के चार अधिकारी एक दुभाषिये के साथ भारतीय सेना के कमांडिंग अफसर से मिले और उन्हें दो पैकेट चॉकलेट दिए.

यांग्त्से दोनों देशों के बीच विवादित क्षेत्रों में से एक है और यह भारतीय क्षेत्र है. इस क्षेत्र में चीन के सैनिक 2011 से ही घुसपैठ का प्रयास करते रहे हैं.

इस बीच गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि दोनों देशों की सेनाओं के बीच यह झड़प चॉकलेट के आदान-प्रदान के साथ समाप्त हो गई. रिजिजू ने कहा कि चीनी सैनिक शांतिपूर्वक अपनी सीमा में वापस लौट गए.

First published: 16 June 2016, 10:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी