Home » इंडिया » China blocked brahmaputra river water to make india trouble, drought like conditions in Arunachal Pradesh
 

भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए चीन ने रोका ब्रह्मपुत्र का पानी, अरुणाचल के कई हिस्सों में सूखे जैसे हालात

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 October 2018, 9:10 IST

चीन ने भारत को परेशान करने के लिए ब्रह्मपुत्र नदी के पानी को रोक दिया है. लगातार चीन की तरफ से हो रही घुसपैठ की ख़बरों के बीच ब्रह्मपुत्र नदी का पानी रोकने की खबर आई है. तिब्बत के रास्ते भारत में बहने वाली ब्रह्मपुत्र नदी का पानी रोक देने से भारत के अरुणाचल प्रदेश के कई इलाकों में सूखे जैसे हालात हो गए है.

पानी रुकने में कई इलाके बुरी तरह से सूखे की चपेट में आ सकते हैं. इस मामले में अरुणाचल प्रदेश से कांग्रेस सांसद निनोंग एरिंग ने केंद्रीय जल संसाधन राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल को पत्र लिखा है. पत्र लिखकर उन्होंने इस बात की जानकारी दी है कि ब्रह्मपुत्र का पानी रुक जाने से अरुणाचल प्रदेश के तूतिंग, यिंगकियोंग और पासीघाट इलाके में इसके कारण सूखे के हालात पैदा हो गए हैं. उन्होंने अपने लिखे पत्र में ये भी अपील की है कि इस मामले में विदेश मंत्री सुष्मा स्वराज और अर्जुन राम मेघवाल हस्तक्षेप करें.


जम्मू-कश्मीर: दशहरे के दिन बुराई की हुई जीत ! खतरनाक आतंकी हमले में सेना के 7 जवान घायल

गौरतलब है कि चीन ने तिब्बत में बहने वाली यारलुंग सांगपो नदी का पानी रोक दिया है. ये नदी जब अरुणाचल प्रदेश में प्रवेश करती है तो इसे सियांग के नाम से पुकारा जाता है. यही नदी आगे चलकर असम में ये ब्रह्मपुत्र के नाम से जानी जाती है.

कांग्रेस सांसद निनोंग एरिंग ने केंअपने पत्र में लिखा है, ''चीन के जल संसाधन मंत्रालय की जानकारी के अनुसार इस नदी के मिलिन सेक्शन में भारी मात्रा में भूस्खलन हुआ है. जिसकी वजह से 16 अक्टूबर से ब्रह्मपुत्र की मुख्यधारा प्रभाव प्रभावित हुई है.''

गौरतलब है कि हाल ही में भारत और चीन के बीच यारलुंग सांगपो नदी के पानी का डेटा साझा करने का करार हुआ था. कांग्रेस सांसद ने पत्र में इस बात की जिक्र किया है, ''चीन यारलुंग सांगपो नदी की रुकावट पर करीबी नजर बनाए हुए है. यदि आगे की कोई सूचना आती है तो उसे हमे इसकी जानकारी देनी चाहिए और भारत सरकार को इस मामले में सक्रिय होकर उनसे बात करनी चाहिए.''

 

First published: 19 October 2018, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी