Home » इंडिया » Chinese Defense Minister told Rajnath at the meeting- India responsible for Ladakh tension- Chinese media
 

मीटिंग में चीनी रक्षा मंत्री ने राजनाथ से कहा- लद्दाख तनाव के लिए भारत जिम्मेदार- चीनी मीडिया

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 September 2020, 12:13 IST

Ladakh StandOff: चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंगही ने शुक्रवार को मास्को में भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मुलाकात की. चीनी मीडिया में इस मीटिंग को लेकर खबरें प्रकाशित हुई हैं. कहा गया है कि मीटिंग में चीन के रक्षा मंत्री ने लद्दाख में सीमा के तनाव के लिए भारत को पूरी तरह से जिम्मेदार ठहराया और कहा कि चीन अपने क्षेत्र का एक इंच भी नहीं छोड़ेगा. समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने जनरल वेई फेंगही के हवाले से लिखा "हाल ही में दोनों देशों और दोनों सेनाओं के बीच सीमा मुद्दे के कारण संबंध गंभीर रूप से प्रभावित हुए हैं. इसलिए दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों के लिए फेस टू फेस होना और मुद्दे पर चर्चा करना महत्वपूर्ण था.”

हालांकि शनिवार को सुबह 9 बजे तक भारत ने दोनों देशों के बीच हुई इस वार्ता पर बयान जारी नहीं किया था. भारतीय सूत्रों का कहना है कि चीन ने शुक्रवार की बैठक की पहले मांग की थी. भारत और चीन के बीच तनाव को लेकर पहले भी चीन भारत को दोषी ठहराता रहा है. चीन ने बुधवार को एक बयान में कहा था कि जिम्मेदारी पूरी तरह से भारत की है और भारत को अपने सैनिकों को तुरंत वापस बुलाना चाहिए. भारत के विदेश मंत्रालय (MEA) ने कहा कि पिछले हफ्ते 31 अगस्त को चीनी सैनिकों ने उत्तेजक कार्रवाई की जबकि उस दौरान दोनों देशों के कमांडरों के बीच चर्चा चल रही थी.


जनरल वेई ने कहा "चीन-भारत सीमा पर मौजूदा तनाव का कारण और सच्चाई बहुत स्पष्ट है और जिम्मेदारी पूरी तरह से भारतीय पक्ष की है. उन्होंने कहा "दोनों पक्षों को राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधान मंत्री मोदी द्वारा तय सहमति को ईमानदारी से लागू करना चाहिए और बातचीत और परामर्श के माध्यम से इस मुद्दे को हल करने के लिए प्रतिबद्ध रहना चाहिए."

कांग्रेस विधायक ने दी जानकारी- चीनी सेना ने अरूणाचल प्रदेश से पांच लोगों को किया अगवा, PMO को किया ट्वीट

एक रिपोर्ट के अनुसार करीब दो घंटा 20 मिनट तक चली बातचीत के दौरान भारतीय प्रतिनिधिमंडल में रक्षा सचिव अजय कुमार और रूस में भारत के राजदूत डी बी वेंकटेश वर्मा भी मौजूद रहे. सरकारी सूत्रों के मुताबिक बाद में राजनाथ और चीनी रक्षामंत्री के बीच हुई लंबी वार्ता का केंद्र बिंदु पूर्वी लद्दाख में तनाव कम करने के लिए बीच का रास्ता निकालने पर ही टिका रहा.

चीनी रक्षा मंत्री के साथ दो घंटे तक चली बातचीत में राजनाथ सिंह का चीन को दो टूक जवाब, 'शांति चाहते हो तो पीछे हटाओ सेना'

First published: 5 September 2020, 11:55 IST
 
अगली कहानी