Home » इंडिया » CIC said the government should make public the bills of the charter aircraft used for Modi's foreign visits
 

CIC ने सरकार से कहा, मोदी की विदेश यात्राओं के लिए इस्तेमाल चार्टर विमानों के बिलों को सार्वजानिक करें

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 February 2018, 16:11 IST

केंद्रीय सूचना आयोग ने विदेश मंत्रालय को 2013 से 2017 तक प्रधानमंत्री के विदेश दौरे के लिए एयर इंडिया के खर्चों से संबंधित दस्तावेजों का खुलासा करने का निर्देश दिया है. मुख्य सूचना आयुक्त आरके माथुर ने मंत्रालय की दलील को खारिज कर दिया है जिसमे कहा गया था कि प्रधानमंत्री की विदेश यात्राओं के जो बिल भारतीय वायु सेना और एयर इंडिया ने दिए थे फाइलों में बिखरे पड़े हैं.

मंत्रालय ने यह भी दलील दी थी कि आरटीआई से जिस तरह की जानकारी मांगी गई है उसमे बड़ी संख्या में अधिकारियों रिकॉर्ड खंगालने होंगे.

कमोडोर लोकेश बत्रा (सेवानिवृत्त) ने वित्त वर्ष 2013-14 और 2016-17 के बीच प्रधान मंत्री के विदेश दौरे से संबंधित बिल, चालान और अन्य रिकॉर्डों का विवरण मांगा था.

सुनवाई के दौरान बत्रा ने कहा कि उन्हें मंत्रालय द्वारा अपूर्ण जानकारी दी गई थी. जिसके बाद उन्होंने आयोग से संपर्क किया. उन्होंने कहा कि वह चाहते थे कि आम जनता को इस बात की जानकारी होनी चाहिए. एयर इंडिया पहले ही आर्थिक नुकसान से गुजर रही है.

First published: 27 February 2018, 16:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी