Home » इंडिया » cisf metro team set-an example of honesty return bag with full of cash
 

CRPF के जवान ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, वापस लौटाया मेट्रो में छूटा पैसों से भरा बैग

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 August 2019, 13:11 IST

दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के एक कर्मचारी ने ईमानदारी की एक मिसाल कायम की है. सीआईएफ के जवान ने अपनी ईमानदारी की मिसाल पेश करते हुए उसके हाथ लगे पैसों से भरा बैग उस बैग के मालिक को वापस कर दिया. यह घटना स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले की है. इस वाक्या की जानकारी सीआईएसएफ के प्रवक्ता सहायक महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह ने दी है.

प्रवक्ता ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले यानि 14 अगस्त की दोपहर को शिवाजी स्टेडियम मेट्रो स्टेशन पर एक संदिग्ध बैग मिला, जिसका स्कैनर द्वारा जब स्कैन किया गया, तो अधिकारियों ने देखा कि उस बैग के अंदर पैसे भरे हुए है. अधिकारी ने बताया कि बैग के अंदर करीब एक लाख रुपए थे और अन्य जरूरी चीजें थीं.

इसके बाद सीसीटीवी फुटेज जब चेक किया गया, तो उसमें बैग के मालिक के बारे में पता चला. इसके बाद सीआरपीएफ के अधिकारियों ने बैग के मालिक की तलाशी शुरू की. कुछ घंटो की मेहनत के बाद पैसे के बैग कामालिक मिल गया. बैग के मालिक का नाम प्रवीण झा निवासी द्वारका है. प्रवीण झा को सीआरपीएफ के जवानों ने रुपए से भरा बैग वापस कर दिया.

प्रवीण ने सुरक्षाकर्मियों को बताया कि वह गलती से इस बैग को स्कैनर के पास छोड़ गया था. मेट्रो जब धौला कुआं के पास पहुंची, तो उसे याद आया कि वह पैसो से भरा बैग कहीं छोड़ गया है. प्रवीण ने सीआईएसएफ के जवानों का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा, "अब मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि ईमानदारी अभी भी जिंदा है."

लालकिले पर PM मोदी के भाषण से इतने प्रभावित हुए पी. चिदंबरम, ट्वीट कर की जमकर तारीफ

First published: 16 August 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी