Home » इंडिया » Citizenship Amendment Act: CAA protest reaches UP, Yogi government implements Section 144
 

CAA: आंदोलन की आंच UP तक पहुंची, योगी सरकार ने पूरे प्रदेश में लागू की धारा 144

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2019, 14:00 IST

CAA Protest: नागरिकता संशोधित कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ देशभर के कई विश्वविद्यालयों समेत कई राज्यों में आंदोलन चल रहा है. अब इस आंदोलन की आंच उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) तक आ गई है. आज यूपी में कानून के विरोध में राजव्यापी विरोध प्रदर्शन है. इसे लेकर राज्य की योगी सरकार और पुलिस प्रशासन पूरी तरह चौकन्ना हो गई है.

यूपी प्रशासन ने इससे निपटने के लिए रणनीति तैयार कर ली है. यूपी पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने प्रदेश के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. डीजीपी ने कहा है कि पूरे राज्य में किसी भी तरह के धरना-प्रदर्शन की अनुमति नहीं है.

सरकार ने प्रदेश के सभी स्कूल और कॉलेजों में दो दिनों का अवकाश घोषित किया है. हालांकि यह अवकाश सर्दी के लिए घोषित किया गया है. लेकिन माना जा रहा है नागरिकता कानून को लेकर प्रदर्शन को देखते हुए सरकार ने ऐसा फैसला लिया है. यूपी डीजीपी ने ट्वीट किया, "19 दिसंबर 2019 को पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू रहेगी और किसी भी सभा के लिए कोई अनुमति नहीं दी गई है. कृपया कोई भी व्यक्ति किसी भी सभा में भाग ना लें. माता-पिता से भी अनुरोध है कि वे अपने बच्चों की काउंसलिंग करें."

 

यूपी में कई विश्वविद्यालयों और शहरों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, हालांकि प्रदेश की पुलिस सख्त हो गई है. यूपी के सभी जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है. पुलिस ने सभी प्रकार के कार्यक्रमों पर रोक लगा दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डीजीपी तथा अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी के अलावा एसटीएफ और एटीएस के आला अफसरों के साथ बैठक की थी.

सीएम ने बैठक में हिंसक घटनाओं पर नाराजगी जताते हुए शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए थे. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए विरोध प्रदर्शन से पहले सीआरपीसी की धारा 149 के तहत 3,000 लोगों को नोटिस जारी किया गया है. 

संसद में नागरिकता कानून का किया था समर्थन, अब NRC का किया विरोध

कौन हैं मनोज मुकुंद नरवणे जो होंगे देश के नए आर्मी चीफ, माना जाता है 'चीन एक्सपर्ट'

First published: 19 December 2019, 9:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी