Home » इंडिया » Citizenship Amendment Bill 2019: JDU support CAB, Prashant Kishor disappointed
 

नागरिकता संसोधन बिल का JDU ने किया समर्थन, निराश प्रशांत किशोर ने कह दी बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 December 2019, 10:33 IST

Citizenship Amendment Bill 2019: लोकसभा में सोमवार की रात नागरिकता संशोधन बिल पास हो गया. कई विपक्षी पार्टियों ने इसका विरोध किया तो कुछ पार्टियों ने इसका समर्थन भी किया. बिहार में एनडीए(NDA) में शामिल नीतीश कुमार(Nitish Kumar) की पार्टी जनता दल(यूनाइटेड)(JDU) ने भी नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया.

जेडीयू ने नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया तो पार्टी के नंबर दो और उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर को अच्छा नहीं लगा. प्रशांत किशोर ने पार्टी के खिलाफ निराशा जाहिर की. उन्होंने एक ट्वीट कर कहा कि विधेयक लोगों से धर्म के आधार पर भेदभाव करता है. यह भी कहा कि विधेयक पार्टी के संविधान से मेल नहीं खाता.

प्रशांत किशोर ने ट्वीट किया, "जदयू के नागरिकता संशोधन बिल को समर्थन देने से निराश हूं. विधेयक नागरिकता के अधिकार से धर्म के आधार पर भेदभाव करता है. बिल पार्टी के संविधान से मेल नहीं खाता, जिसमें धर्मनिरपेक्ष शब्द पहले पन्ने पर तीन बार आता है. पार्टी का नेतृत्व गांधी के सिद्धांतों को मानने वाला है."

बता दें कि इस विधेयक पर चर्चा में भाग लेते हुए लोकसभा में पार्टी के नेता राजीव रंजन ने कहा था कि जदयू इसलिए बिल का समर्थन कर रही है क्योंकि यह धर्मनिरपेक्षता के खिलाफ नहीं है. 

लोकसभा में आधी रात को पास हुआ नागरिकता संशोधन बिल, अब राज्यसभा में होगा पेश

ओवैसी ने लोकसभा में गुस्से में फाड़ा नागरिकता संशोधन बिल, कहा- मुस्लिमों से नफरत करती है सरकार

First published: 10 December 2019, 10:33 IST
 
अगली कहानी