Home » इंडिया » CJI deepak mishra impeachment is to be discussed with opposition parties
 

CJI दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाने के लिए फिर से एकजुट हुआ विपक्ष

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 April 2018, 11:06 IST

विपक्ष एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश दीपक मिश्रा के महाभियोग को लेकर सक्रिय हो गया है. इस मामले में संसद भवन में तमाम विपक्षी दलों की बैठक होने जा रही है. जानकारी के अनुसार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू से इसके लिए समय मांगा है.

सूत्रों के अनुसार बैठक का फैसला कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात के बाद लिया गया है. राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने सभी नेताओं को सुबह 11 बजे बैठक के लिए बुलाया है. इस सर्वदलीय बैठक के बाद जज लोया की मौत की जांच को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की जाएगी. आपको बता दें कि इससे पहले 12 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट के 4 न्यायाधीश ने प्रेस कांफ्रेंस करके इस मामले पर गंभीर चिंता जताई थी.

ये भी पढ़ेंकठुआ गैंगरेप: दिल्ली फॉरेंसिक रिपोर्ट से हुआ ये बड़ा खुलासा 

 

टीएमसी ने कहा है कि वह पंचायत चुनाव में व्यस्त है, लिहाजा इस बैठक में शामिल नहीं हो सकती है. जबकि केरल की यूएमएल ने भी इतने कम समय में दिल्ली पहुंचने में असमर्थता जाहिर की है.

गौरतलब है कि बजट सत्र के दौरान भी महाभियोग को संसद में लाने का मामला बहुत सक्रिय था. लोकसभा में महाभियोग का प्रस्ताव आने के बाद सदन में 100 लोगों का इसका समर्थन करना जरूरी है, हालांकि इससे पहले 70 सांसद इसपर हस्ताक्षर कर चुके हैं. वहीं राज्यसभा में इस प्रस्ताव को पास करने के लिए 50 सांसदों की जरूरत होती है. किसी भी सदन में यह प्रस्ताव आने के बाद सभापति या फिर अध्यक्ष को इसे खारिज करने का अधिकार होता है.

First published: 20 April 2018, 11:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी