Home » इंडिया » CJI says if farmers do not get protection from Corona, then conditions like Tabligi Jamaat
 

CJI ने जताई चिंता- किसानों को कोरोना से नहीं मिली सुरक्षा, तो तबलीगी जमात जैसे हो सकते हैं हालात

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 January 2021, 15:04 IST

Farmers Protests: तीन नए कृषि कानूनों को लेकर देशभर में किसान पिछले काफी दिनों से आंदोलन कर रहे हैं. इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने किसानों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है. सुप्रीम कोर्ट ने  कोरोना वायरस के फैलने को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार से पूछा है कि क्या किसान आंदोलन में कोविड को लेकर नियमों का पालन किया जा सकता है?

इस मामले पर चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एस ए बोबडे ने कहा कि किसान कोरोना वायरस से सुरक्षित हैं या नहीं, यह हमें नहीं पता? उन्होंने अंदेशा जताया कि अगर नियमों का पालन नहीं किया गया तो किसान आंदोलन की वजह से तबलीगी जमात की तरह दिक्कत पैदा हो सकती है. उन्होंने कहा कि कोरोना की शुरुआत मेंं तबलीगी जमा हुए थे, ऐसे ही अब किसान जमा हुए हैं.

सीजेआई ने केंद्र से पूछा कि किसानों को कोविड से प्रोटेक्शन है क्या? हमें मुख्य समस्या पर बात करनी होगी. सरकार सुनिश्चित करे कि किसान आंदोलन में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन हो रहा हो. वहीं केंद्र सरकार की तरफ से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि किसान आंंदोलन में नियमों का पालन नहीं हो रहा है. 

केंद्र सरकार ने इससे पहले सुप्रीम कोर्ट से बताया था कि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में जमातियों के जुटने की CBI जांच की जरूरत नहीं है. केंद्र ने कहा कि दिल्ली पुलिस मामले की जांच कर रही है. इस मामले में जल्द ही अदालत में जांच रिपोर्ट दाखिल की जाएगी. केंद्र ने कहा कि अगर सुप्रीम कोर्ट कहेगा तो मामले की जांच से जुड़ी जानकारियां की वह सील बंद स्टेट्स रिपोर्ट दाखिल करने को तैयार है.

Coronavirus: भारत में 1 करोड़ से ज्यादा लोगों ने कोरोना वायरस को दी मात, डेढ़ लाख लोगों की मौत

Farmers Protest : आज किसानों की गाजियाबाद से नोएडा तक ट्रैक्टर रैली, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

First published: 7 January 2021, 14:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी