Home » इंडिया » cm yogi traditional avtar pictures
 

परम्परा निभाने के चार दिन बाद मठ से नीचे उतरने पर इस अवतार में दिखे सीएम योगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 October 2019, 18:24 IST

नवरात्रि के परंपरागत अनुष्ठान के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राजकाज और परंपरा के निवर्हन के संकल्प के साथ चार दिन से मठ में ही हैं. परम्परा के मुताबिक आज चार दिन बाद वह नाथजी के विशेष अनुष्ठान के लिए मठ से नीचे उतरे. खास पूजा के लिए उनकी वेशभूषा भी खास थी. साथ में मन्दिर के पुजारी और अन्य लोग भी थे. 100 की संख्या में वेद पाठी बालक शस्त्र त्रिशूल, तलवार और अन्य शस्त्र लिए सैनिक के रूप में उनके साथ सुरक्षा में चल रहे थे.

गोरक्षपीठाधीश्वर के साथ प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ एवं योगी सूरजनाथ, योगी प्रेमनाथ समेत बड़ी संख्या में योगी श्रद्धाभाव से साथ चल रहे थे. घण्टे और घड़ियाल की धुन और गुरु गोरक्षनाथ के जयकारे के बीच वह मुख्य मंदिर के गर्भगृह में गये और नाथजी की पूजा सम्पन्न की. एक घंटे तक चले इस अनुष्ठान में ढोल नगाड़े के बीच भव्य आरती हुई. इस दौरान गोरक्षपीठाधीश्वर के साथ सिर्फ उनके साथी कमलनाथ एवं सूरजनाथ मौजूद रहे.

श्रीनाथ की पूजा के बाद गोरक्षपीठाधीश्वर ने भैरव मंदिर, दुर्गा मंदिर, रामदरबार, अखण्ड धूनी, हनुमान मंदिर, श्रीकृष्ण दरबार समेत सभी प्रतिष्ठित सभी देव प्रतिमाओं का दर्शन कर पूजन किया. उसके बाद उनका काफिला भगवान भीम की प्रतिमा के समक्ष पहुंचा, जहां उन्होंने पूजन किया. उसके बाद भीम सरोवर पर पहुंच कर पूजन किया. यहां उन्होंने सरोवर की मछलियों को चारा दिया. बैंड बाजा के साथ डमरू, बीन, शंख बजाने वाले कलाकारों के श्रद्धा से भरे शौर्य पूर्ण प्रदर्शन ने सभी का मन मोह लिया. पूरा परिसर एक आध्यात्मिक एवं सकारात्मक ऊर्जा से सराबोर था.

मछलियों को चारा देने के बाद गोरक्षपीठाधीश्वर, ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ एवं ब्रह्मलीन महंत अपने गुरु अवेद्यनाथ की समाधि पर माथा टेक कर पुष्प अर्पित किया. उसके बाद पुन: वह मंदिर में पहुंच कर वहां गुरु गोरक्षनाथ समेत स्थापित सभी देव प्रतिमाओं का पूजन किया.इसके बाद वे गोशाला पहुंचे जहां उन्होंने 20 मिनट तक वक्त विताया. गायों को गुड़ व चना खिलाकर आशीर्वाद लिया.

इस कार्यक्रम के बाद गोरखनाथ मंदिर के तिलक हॉल में गोरक्षपीठाधीश्वर का तिलकोत्सव कार्यक्रम सम्पन्न हुआ. दूर-दूर से आए हजारों श्रद्धालुओं ने तिलक लगाकर गोरक्षपीठाधीश्वर का आशीर्वाद लिया. इस दौरान तिलक हॉल के बाहर श्रद्धालुओं की लंबी कतार लगी हुई थी. श्रद्धालुओं ने एक-एक कर गोरक्षपीठाधीश्वर को चंदन और चावल का टीका लगाया उसके उपरांत गोरक्षपीठाधीश्वर ने भी श्रद्धालुओं को चंदन और चावल का टीका लगाकर अपना आशीर्वाद दिया.

देखिए तस्वीरें...

First published: 8 October 2019, 18:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी