Home » इंडिया » Congress leader Digvijaya Singh terms Pulwama terrorist attack an accident
 

पुलवामा आतंकी हमले को दिग्विजय सिंह ने बताया हादसा, PM मोदी से पूछे कई सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 March 2019, 10:43 IST

कांग्रेस के महासचिव और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने वायुसेना द्वारा बालाकोट में किए गए हमले को लेकर प्रधानमंत्री से कई सवाल किए. मंगलवार को दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि सवाल ना तो सत्ता का है और ना ही सियासत का. बल्कि सवाल उन मां और बहनों का है जिन्होंने अपने बेटों और भाइयों को खोया है. उन्होंने कहा कि मोदी जी को इनके सवालों का जवाब देना चाहिए. दिग्विजय सिंह ने कहा बीजेपी सेना की सफलता को अपनी सफलता साबित कर चुनावी मुद्दा बनाने की कोशिश कर रही है. इसी दौरान उन्होंने पुलवामा आतंकी हमले को 'दुर्घटना' बता दिया.

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर लिखा, "हमें हमारी सेना पर उनकी बहादुरी पर गर्व है व सम्पूर्ण विश्वास है. सेना में मैंने मेरे अनेकों परिचित व निकट के रिश्तेदारों को देखा है किस प्रकार वे अपने परिवारों को छोड़ कर हमारी सुरक्षा करते हैं. हम उनका सम्मान करते हैं." उन्होंने आगे लिखा, "किन्तु पुलवामा दुर्घटना के बाद हमारी वायु सेना द्वारा की गई एयरस्ट्राइक के बाद कुछ विदेशी मीडिया में संदेह पैदा किया जा रहा है जिससे हमारी भारत सरकार की विश्वसनीयता पर भी प्रश्न चिन्ह लग रहा है."

दिग्विजय सिंह ने BJP पर तंज कसते हुए लिखा, "प्रधान मंत्री जी आपकी सरकार के कुछ मंत्री कहते हैं 300 आतंकवादी मारे गए. भाजपा अध्यक्ष कहते हैं 250 मारे हैं. योगी आदित्यनाथ कहते हैं 400 मारे गए और आपके मंत्री एसएस आहलूवालिया कहते एक भी नहीं मरा. और आप इस विषय में मौन हैं. देश जानना चाहता है कि इसमें झूठा कौन है."

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने आगे ट्वीट लिखा, "मोदी जी सवाल ना सियासत का है ना सत्ता का. सवाल उन बिलखती बहनों का है जिन्होंने अपने भाई खोए हैं सवाल उस मां का है जिसके लाड़ले की शाहदत हुई है और सवाल उस वीरांगना का है जिसने अपना पति खोया है. इनके सवालों का जवाब आप कब देंगे?"

उन्होंने प्रधानमंत्री से सवाल किया, "आप, आपके वरिष्ठ नेता और आपकी पार्टी सेना की सफलता को जिस प्रकार से भाजपा केवल अपनी सफलता साबित कर चुनावी मुद्दा बनाने का प्रयास कर रहे हैं वह हमारे देश के सुरक्षा कर्मियों की बहादुरी और समर्पण का अपमान है. देश का हर नागरिक भारतीय सेना और समस्त सुरक्षा कर्मियों का सम्मान करता है."

Air India का नया आदेश, अब विमान उड़ाने से पहले पायलट को बोलना होगा ये शब्द

First published: 5 March 2019, 10:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी