Home » इंडिया » congress leader wrote a controversial book
 

मोदी बनाम शाह: ‘फेंकूजी हवे दिल्‍ली मा’

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(पीटीआई)

कांग्रेस के एक नेता जेआर शाह ने एक विवादित किताब लिखी है, जिसका नाम है ‘फेकूजी हवे दिल्‍ली मा’. इस किताब के बारे में कहा जा रहा है कि यह कथित तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी गई है.

इस किताब के शीर्षक और इसमें छपे विषय के बारे में बैन लगवाने के लिए मोदी समर्थकों ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. इस मामले में मोदी समर्थकों का आरोप था कि इस किताब का शीर्षक और कंटेंट, दोनों ही आपत्‍तिजनक हैं.

मोदी समर्थकों ने अपनी इस दलील के द्वारा गुजरात के एक कोर्ट से इस किताब पर बैन लगाने की मांग की थी.

जिसे कोर्ट ने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि इस किताब में लिखे विषय और इसका शीर्षक लेखक के निजी विचार के दायरे में आता है और अगर ऐसे में इस किताब पर बैन किया जाता है, तो यह संविधान के अनुसार लेखक के अभिव्यक्ति की स्‍वतंत्रता का उल्‍लंघन होगा.

वहीं इस मामले में किताब के लेखक शाह ने बताया कि यह किताब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वादाखिलाफी पर लिखी गई है.

शाह ने कहा कि, पीएम मोदी ने साल 2014 के आम चुनाव के दौरान जनता से जो-जो वादे किए थे, वो सत्ता में आने के बाद मोदी पूरा नहीं कर पाए.

यह किताब मोदी और अन्‍य बीजेपी नेताओं के द्वारा जनता से किए वादों को विस्तार से बताती है. इस किताब में बताया गया है कि पीएम मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी ने चुनाव से पहले कश्‍मीर, इंश्‍योरेंस बिल, आधार कार्ड, पाकिस्‍तान, ब्‍लैक मनी जैसे मुद्दों पर जनता से क्या-क्या वादे किए थे और बीते दो साल में उन्‍होंने इस पर कितना अमल किया है.

इसके साथ ही शाह ने किताब के जरिए यह आरोप भी लगाया कि मोदी ने पूर्ववर्ती सरकार की किसी भी योजना को रद्द नहीं किया, बल्कि उन योजनाओं का नाम बदलकर ही काम किया है. शाह इस किताब का दूसरा खंड भी लिख रहे हैं. शाह के मुताबिक वह जनता को मोदी के वादों पर जागरूक करना चाहते थे, इसलिए उन्‍होंने यह किताब लिखी.

इसके साथ ही शाह ने यह भी दावा किया है कि उन्होंने यह किताब व्यक्तिगत तौर पर लिखी है. उनकी इस किताब से कांग्रेस पार्टी का कोई संबंध नहीं है.

First published: 29 June 2016, 3:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी