Home » इंडिया » Congress Mallikarjun Kharge moves an application in the Supreme Court seeking direction against removal of CBI Director Alok Verma
 

CBI vs CBI: अब कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, उठाए ये सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 November 2018, 15:18 IST
(file photo )

सीबीआई में जारी घमासान को लेकर राजनीति जारी है. कांग्रेस सहित विपक्षी दल सीबीआई मामले को लेकर सरकार पर हमलावर हैं. कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे सीबीआई के डायरेक्टर आलोक वर्मा के समर्थन में उतर आए हैं. उन्होंने आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. खड़गे ने सवाल उठाते हुए कहा है कि सरकार इस तरह से आलोक वर्मा को नहीं हटा सकती है.

मीडिया खबरों के मुताबिक, मल्लिकार्जुन खड़गे ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा है कि सीवीसी के पास सीबीआई निदेशक के खिलाफ कार्रवाई करने की शक्ति नहीं है. सीबीआई निदेशक को देश का प्रधानमंत्री, प्रधान न्यायाधीश और विपक्ष के नेता की समिति द्वारा चुना जाता है. उन्होंने कहा है कि सीबीआई निदेशक को हटाने का अधिकार ना तो सरकार के पास है और ना ही सीवीसी के पास है. उन्होंने मांग की है कि कानून के मुताबिक सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को 2 साल का कार्यकाल मिलना चाहिए. सरकार आलोक वर्मा को इस तरह से नहीं हटा सकती है.

आपको बता दें कि इससे पहले मल्लिकार्जुन खड़गे ने आलोक वर्मा को हटाने के फैसले को शर्मनाक बताया था. खड़गे ने कहा था कि उन्होंने इस संबंध में पीएम मोदी को तीन पेज का एक पत्र भी लिखा था. जिसमें बताया था कि सीबीआई निदेशक को हटाने का फैसला अकेले नहीं लिया जा सकता है. बता दें कि खड़गे विपक्ष के नेता होने के नाते सीबीआई डायरेक्टर की नियुक्ति करने वाली समिति का हिस्सा है. इस समति में प्रधानमंत्री, चीफ जस्टिस भी शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- 'CBI मोदी सरकार के घर बंधा हुआ कुत्ता, राकेश अस्थाना हैं BJP के शार्प शूटर'

First published: 3 November 2018, 15:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी