Home » इंडिया » Congress minister Narasimha Rao says if Muslims want to stay in gutter let them
 

राजीव गांधी सरकार के मंत्री ने कहा था- मुस्लिमों को गटर में रहने दो, कांग्रेस के मंत्री ने किया खुलासा

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 13:11 IST

लोकसभा में कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बयान देकर भूचाल ला दिया था. पीएम मोदी ने कहा था कि शाहबानो केस के समय राजीव गांधी सरकार के एक मंत्री ने कहा था कि मुसलमानो कांग्रेस के मंत्री ने अपने इंटरव्यू में बताया था कि उनकी पार्टी के एक नेता ने मुसलमानों को गटर में रहने देना चाहिए. पीएम मोदी के इस बयान के बाद लोकसभा में बवाल मच गया.

पीएम मोदी ने हालांकि अपने बयान में उस कांग्रेस नेता का नाम नहीं बताया कि किसने ये बयान दिया था. इसके बाद कांग्रेस नेता लोकसभा में हंगामा करने लगे और नेता का नाम बताने को कहा. इस पर पीएम मोदी ने जवाब दिया कि वह यूट्यूब का लिंक भेज देंगे.

इसके बाद राजीव गांधी सरकार में ही तत्कालीन गृहराज्य मंत्री आरिफ मोहम्मद खान ने उस मंत्री के नाम बताया, जिन्होंने मुस्लिमों को गटर में रहने देने की बात कही थी. राजीव गांधी सरकार में मंत्री रहे आरिफ मोहम्मद खान ने बताया कि शाहबानो केस का तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने जब विरोध किया तो उन्होंने इस पर असहमति जताते हुए अपना इस्तीफा दे दिया था.

आरिफ मोहम्मद खान ने बताया, "राजीव गांधी सरकार से इस्तीफा देने के बाद मैं अपने घर नहीं गया था. बल्कि किसी दोस्त के यहां चला गया था जिससे कि कोई मुझे संपर्क न कर सके. इसके अगले दिन जब मैं संसद गया तो कुछ कांग्रेस के नेता मुझे समझाने आए. सबसे आखिर में नरसिम्हा राव आए. उन्होंने कहा कि तुम इतना अच्छा बोलते हो, लेकिन तुम बहुत जिद्दी हो."

आरिफ मोहम्मद ने बताया, "नरसिम्हा राव ने इसके आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी मुसलमानों का सामाजिक सुधार करने के लिए नहीं है. न ही तुम मुसलमानों का सामाजिक सुधार करने के लिए हो. इसलिए तुम ऐसा क्यों कर रहे हो. इसके बाद नरसिम्हा राव ने कहा कि अगर कोई गटर में पड़े रहना चाहता है तो रहने दो."

गौरतलब है कि तब पीवी नरसिम्हा राव राजीव गांधी सरकार में गृहमंत्री और विदेश मंत्री का पद संभाल रहे थे. 23 अप्रैल 1985 को तीन तलाक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शाह बानों के पक्ष में फैसला सुनाया था. उनके पति ने उन्हें तीन तलाक दिया था. इसके बाद तत्कालीन राजीव गांधी की कांग्रेस सरकार ने मुस्लिम वोट बैंक खिसकने के डर से अदालत के फैसले को पलट दिया था. 

First published: 26 June 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी