Home » इंडिया » Congress MLA Ninong Ering Claim Five People Of Arunachal Pradesh Abducted By PLA
 

कांग्रेस विधायक ने दी जानकारी- चीनी सेना ने अरूणाचल प्रदेश से पांच लोगों को किया अगवा, PMO को किया ट्वीट

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 September 2020, 10:43 IST

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव जारी है. भारतीय सेना चीनी सैनिकों को हर घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करने में लगी हुई हैं और उनको मुंह तोड़ जवाब भी दे रही है. इस बीच एक अरूणाचल प्रदेश से हैरान कर देने वाली खबर आई है. अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग ईरिंग ने दावा किया है कि चीनी सेना ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की और पांच स्थानियों लोगों को अगवा कर लिया. निनॉन्ग ईरिंग ने इस बाबत प्रधानमंत्री कार्यालय को ट्वीट भी किया और उन्हें इस बात की जानकारी दी है. निनॉन्ग ईरिंग ने अपने ट्वीट में बताया कि चीनी सेना ने सुबासिरी जिले से पांच लोगों का अपहरण कर लिया है.

निनॉन्ग ईरिंग ने शनिवार को ट्वीट कर कहा,"चौंकाने वाली खबर. हमारे राज्य अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबासिरी जिले के पांच लोगों का कथित तौर पर चीन के पीएलए द्वारा अपहरण कर लिया गया है. कुछ महीने पहले भी इसी तरह की घटना घटी थी. पीएलए और चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी को मुंहतोड़ जवाब दिया जाना चाहिए."


निनॉन्ग ईरिंग ने अपने ट्वीट में दो स्क्रीनशॉट और एक अरूणाचल टाइम्स का एक लिंक भी शेयर किया है जिसमें गांव वालों के हवाले से दावा किया गया है कि चीनी सेना ने पांच लोगों को अगवा कर लिया है. निनॉन्ग ईरिंग ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं, उसमें उन पांच लोगों के नाम हैं, जिनके बारे में दावा है कि उन्हें अगवा किया गया है. निनॉन्ग ईरिंग ने अपने ट्वीट में गृहमंत्री और पीएमओ को टैग करते हुए मांग की है कि चीन को इस हरकत के लिए मुंहतोड़ जवाब दिया जाना चाहिए.

अरूणाचल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, तागिन समुदाय से संबंधित पांच लोग नाचो के पास जंगल में शिकार करने गए थे और तब चीनी सेना ने उनका अपहरण कर लिया गया था. शुक्रवार को अपहरण किए गए व्यक्तियों में से एक के रिश्तेदार ने इस बारे में सूचित किया है. जिन लोगों का अपहरण कर लिया गया है, वे हैं टोच सिंगकम, प्रसाद रिंगलिंग, डोंगटू इबिया, तनु बेकर और नार्गु डिरी.

रिपोर्ट के अनुसार, दो अन्य ग्रामीण, जो अपहृत व्यक्तियों के साथ गए थे, वो इस दौरान किसी तरह भागने में सफल रहे और वापस आने पर गांव वालों के साथ इस बात को साझा किया. हालांकि, अभी तक किसी भी अपहृत के रिश्तेदारों ने इस घटना के बारे में भारतीय सेना के साथ कोई बातचीत नहीं की है. इस घटना के बाद नाचो के ग्रामीणों में दहशत है.

चीनी रक्षा मंत्री के साथ दो घंटे तक चली बातचीत में राजनाथ सिंह का चीन को दो टूक जवाब, 'शांति चाहते हो तो पीछे हटाओ सेना'

First published: 5 September 2020, 9:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी