Home » इंडिया » congress protest against rajasthan govt. for cow protection
 

जयपुर: गोशाला में गायों की मौत पर गरमाई सियासत, कांग्रेस ने निकाली गोरक्षा रैली

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 August 2016, 14:48 IST
(पत्रिका)

जयपुर की हिंगोनिया गोशाला में गायों की मौत के मामले ने सियासी तूल पकड़ लिया है. पिंकसिटी में शनिवार को कांग्रेस ने गोरक्षा रैली निकाली. इस बीच यह भी खबर है कि हंगामा बढ़ने के बाद सीएम वसुंधरा राजे की भी नींद खुली है और वो आज हिंगोनिया गोशाला का निरीक्षण करने वाली हैं. 

इस बीच राजस्थान कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर जयपुर में एक रैली निकाली. यह रैली कांग्रेस कार्यालय से शुरू होकर शहर के मशहूर राधा-कृष्ण मंदिर गोविंद देवजी पहुंची.

जयपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रताप सिंह खाचरियावास के नेतृत्व में इस रैली का आयोेजन किया गया. रैली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ हजारों कार्यकर्ता भी मौजूद रहे. इस दौरान सड़कों पर उतरे कांग्रेसी नेताओं ने राज्य सरकार से गायों को बचाने की अपील की.

कांग्रेस नेताओं ने राज्य सरकार को चेतावनी दी है कि अगर गायों की मौत का सिलसिला नहीं रुका, तो जल्द ही कांग्रेस पार्टी वार्ड स्तर से लेकर प्रदेश स्तर तक बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करेगी.

10 दिन में 100 गायों की मौत!

कांग्रेस द्वारा आयोजित यह रैली जयपुर की हिंगोनिया गोशाला में हुई गायों की मौत के विरोध में निकाली गई. पदयात्रा के बाद महाआरती का भी आयोजन किया गया.

जयपुर कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रताप सिंह खचारियावास ने कहा, "जब से वसुंधरा राजे की सरकार आई है जयपुर के हिंगोनिया की गोशाला में सैकड़ों गायें रोजाना मर रही हैं फिर भी वो और नगर निगम गायों की मौत रोकने में पूरी तरह से विफल रही है."

कांग्रेस नेता ने कहा, "हम भगवान कृष्ण से गायों की रक्षा की प्रार्थना करेंगे, क्योंकि सरकार और नगरपालिका गायों की मौत को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. न केवल राज्य के बल्कि पूरे देश के लोग गायों की मौत से आक्रोशित हैं."

गौरतलब है कि यह मामला उस समय सुर्खियों में आया, जब शुक्रवार को खबर आई कि राजस्थान की सबसे बड़ी सरकारी गोशाला में पिछले 10 दिनों में 100 से ज्यादा गायें मर गई हैं.

शुरुआती तौर पर यह मामला देखरेख में चूक का बताया जा रहा है. ये मौतें 21 जुलाई के बाद से शुरू हुईं. यह गोशाला जयपुर के हिंगोनिया में बनी हुई है.

इतनी गायों की मौत के बाद राजस्थान कोर्ट ने मामले पर संज्ञान लिया औऱ गुरुवार को हुई सुनवाई में कोर्ट ने मामले के प्रति अपनी नाराजगी जताते हुए सख्त टिप्पणी की.

अदालत ने आईजी दिनेश एमएन को फौरन हिंगोनिया गोशाला जाकर हालात का मुआयना करने के आदेश दिए. अदालत में गायों की मौत पर सवाल उठाते हुए कहा कि एक साथ इतनी गायों की मौत होना निगम की लापरवाही को बताता है.

First published: 6 August 2016, 14:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी