Home » इंडिया » Congress supported PM modi over Donald trump comment for Afghanistan library
 

PM मोदी के साथ आ खड़ी हुई धुर विरोधी कांग्रेस, चार साल में पहली बार खुलकर किया समर्थन

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 January 2019, 7:46 IST
(File photo)

केंद्र में मोदी सरकार आने के चार सालों में पहली बार ऐसा हुआ है भारतीया जनता पार्टी की धुर विरोधी मानी जाने वाली कांग्रेस पार्टी ने खुल कर किसी मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी का समर्थन किया हो. लेकिन इस बार देश के प्रधानमंत्री के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का जो बयान आया है उस पर कांग्रेस ने पीएम मोदी के पक्ष में ट्रंप को तीखी प्रतिक्रिया दी है. कांग्रेस ने सीधे तौर पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर निशाना साधते हुए कहा है कि अमेरिका को भारत को उसके विकास कार्यों के बारे में सीख नहीं देनी चाहिए.

इतना ही नहीं कांग्रेस पार्टी ने ये भी कहा है कि देश के प्रधानमंत्री मोदी के लिए इस तरह की टिप्पणी को स्वीकार नहीं किया जाएगा. साथ ही पार्टी ने ये भी कहा है कि ट्रंप के इस अशोभनीय टिप्पणी के लिए भारत सरकार जरूर ही कोई सख्त जवाब देगी. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले में ट्वीट करते हुए कहा,'' प्रिय ट्रंप, भारत के प्रधानमंत्री (PM Modi) का मजाक बनाना बंद करिए. अफगानिस्तान पर भारत को अमेरिका के उपदेश की जरूरत नहीं है.''

साथ ही उन्होंने भारत द्वारा अफगानिस्तान को दी जाने वाली मदद के बारे में बताते हुये कहा कि मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री पद पर होने के समय भारत ने अफगानिसतान में नेशनल असेंबली की इमारत बनाने में मदद की थी. अफ़ग़ानिस्तान के लोगों को भारत का भाई-बहन बताते हुए उन्होने कहा कि मानवीय जरूरतों से लेकर रणनीतिक-आर्थिक साझेदारी तक हम हमेशा अफगानिस्तान के साथ हैं.

वहीं ट्रंप की इस टिप्पणी पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने भी पीएम मोदी के पक्ष में कहा कि भारत के प्रधानमंत्री के बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की टिप्पणी पूरी तरह से अस्वीकार्य है.

क्या था मामला

दरअसल ट्रंप ने पीएम मोदी पर अफगानिस्तान में एक पुस्तकालय के लिए वित्तीय मदद देने पर तंज कसते हुए कहा था, ''युद्ध से प्रभावित देश में इसका कोई मतलब नहीं है.'' साथ ही ट्रंप ने भारत एवं अन्य देशों की इस मुद्दे पर आलोचना की थी कि वह उस देश को सुरक्षा नहीं मुहैया करा सके हैं.

ट्रंप ने कहा था, '' मैं आपको मेरे, भारत और प्रधानमंत्री मोदी के साथ अच्छे तालमेल का एक उदाहरण दे सकता हूं, लेकिन वह लगातार मुझे बता रहे हैं कि उन्होंने अफगानिस्तान में पुस्तकालय बनवाया. पुस्कालय!''

First published: 4 January 2019, 7:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी