Home » इंडिया » Congress vice-president Rahul Gandhi addressed party workers in Lucknow
 

राहुल गांधी: हर हर मोदी से अरहर मोदी तक पहुंचा देश

पत्रिका स्टाफ़ | Updated on: 11 February 2017, 5:48 IST
(फेसबुक)

लखनऊ में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के संवाद सम्मेलन के जरिए राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा की मोदी सरकार थाली से दाल छीन रही है. लोकसभा चुनाव के दौरान देश में मोदी लहर में हर-हर मोदी का नारा चल रहा था. अब राहुल गांधी ने मोदी के नारे की खिल्ली 'अरहर मोदी अरहर मोदी' से उड़ाई है.

कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को भरोसा देते हुए राहुल ने वादा किया अगर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती है और शीला दीक्षित मुख्यमंत्री बनती हैं तो वह हर हफ्ते जनता दर्शन का कार्यक्रम रखेंगी जिससे जनता से उनका सीधा संवाद बनेगा.

उत्तर प्रदेश में 27 साल के वनवास को ख़त्म करने के लिए राहुल गांधी का यह कार्यक्रम लखनऊ में आयोजित किया गया था जिसमें कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए राहुल अकेले मंच पर नज़र आए.

मोदी के पास जनता का पैसा

राहुल ने मोदी पर निशाना साधते हुए उद्योगपतियों को भी आड़े हाथ लिया. उन्होंने कहा कि सरकार ने 52,000 करोड़ उद्योगपतियों को दे दिए हैं. मोदी जी के पास जो पैसा पड़ा है वह मै जनता को दिलाना चाहता हूं. पीएम मोदी ने किसानों का क़र्ज़ नहीं चुकाया. किसानों ने हमारा साथ दिया तो मोदी जी को हमारी बात माननी पड़ेगी.

सपा, बसपा और बीजेपी कर रही झूठी राजनीति

राहुल ने कार्यकर्ताओं में आत्मविश्वास भरने के लिए मंच से कहा की उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी. कांग्रेस महंगाई के खिलाफ आंदोलन करेगी. कार्यकर्ताओं के पास चुनाव को लेकर बेहद अच्छे सुझाव हैं जिन पर जल्द काम होगा.

जोश में नजर आ रहे राहुल गांधी रैली के दौरान काफी आक्रामक रहे. रह रह कर वह पीएम मोदी पर निशाना साध रहे थे. उन्होंने कहा नरेन्द्र मोदी जी भ्रष्टाचार की बातें करते हैं लेकिन उनकी पार्टी के पास इतना पैसा कहां से आता है? जनता को यह सोचना चाहिए. कांग्रेस के पास पैसे नहीं हैं लेकिन इस पार्टी के पास अच्छे कार्यकर्ता हैं जिनकी बदौलत यूपी विजय करनी है.

कार्यकर्ताओं और जनता को पार्टी के करीब लाने की गरज से उन्होंने घोषणा की कि आप लोग जो कहेंगे वह पार्टी के घोषणापत्र का हिस्सा बनेगा. उन्होंने कहा की गरीब की कोई जाति नहीं होती. यूपी में कांग्रेस की सरकार बनेगी तो गरीबों को यह लगेगा की उनकी सरकार है जो उनके हित में काम कर रही है.

भव्य आयोजन

अभी जमीन पर भले ही कांग्रेस के पास बहुत कुछ न हो लेकिन भव्य आयोजनों और अटकलों के जरिए वह लगातार चर्चा बंटोरना चाहती है. इसी वजह से राजधानी के आशियाना इलाके में स्थित रमाबाई अंबेडकर मैदान में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की रैली बड़े पैमाने पर आयोजित की गई .

राहुल गांधी के रमाबाई अम्बेडकर मैदान में पहुंचते ही कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने उनका जोर शोर से अभिवादन किया. कांग्रेस के युवराज के उद्घोष को सुनने के लिए हजारों की भीड़ रैली में मौजूद रही.

यूपी की बदहाली पर बार-बार हमलावर होने के बाद कांग्रेसी पूरी ताकत से एक नया नारा लगा रहे हैं- 'वापस आ रहे हैं हम'. कांग्रेस की योजना 'यूपी उद‌्घोष' के साथ अन्य राजनीतिक पार्टियों में डर पैदा करने के साथ दलित वोटों पर डोरे डालने की भी है. राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को मंच से 50 सवालों के जवाब भी दिए.

रैली में राहुल के साथ प्रशांत किशोर की टीम भी मौजूद रही. यूपी को फतह करने की रणनीति बनाने में प्रशांत किशोर की मुख्य भूमिका है. मैदान में राहुल गांधी को सुनने के लिए कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की अच्छी-खासी भीड़ इकट्ठा हो गई.

योजना के अनुसार राहुल ने तकरीबन साढ़े तीन घंटे तक कार्यकर्ताओं से बातचीत की, उनके सवालों का जवाब दिया. सवाल पूछने वालों ने पंजीकरण के समय ही अपने सवाल लिखित में दे दिए थे. सवालों की संख्या बहुत ज्यादा थी इसलिए उनमें से केवल 50 सवालों के जवाब ही राहुल गांधी ने दिए.

कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि समय की कमी की वजह से राहुल गांधी इतने ही सवालों का जवाब दे पाए. बाकी सवालों के जवाब बाद में सोशल मीडिया से प्रसारित किए जाएंगे.

प्रशांत किशोर की टीम कर रही काम

कार्यक्रम की प्लानिंग से लेकर इसे धरातल पर उतारने तक सारा काम प्रशांत किशोर की टीम कर रही है. कार्यक्रम की खास बात यह है कि इसमें यूपी के किसी भी बड़े नेता का योगदान 15 कार्यकर्ता से ज्यादा नहीं रखा गया है. कार्यक्रम के सफल होने के बाद सभी नेताओं में साफ संदेश गया है कि उनकी बड़ी भूमिका के बिना भी कांग्रेस पार्टी राज्य में बड़े आयोजन कर सकती है.

संवाद की 10 बड़ी बातें

राहुल ने अमेरिकी प्रेसीडेंट बराक ओबामा की स्टाइल में टहलते हुए अपने कार्यकर्ताओं से संवाद स्थापित किया. कार्यकर्ता राहुल गांधी से सीधे सवाल कर रहे थे और राहुल उनका जवाब दे रहे थे. इस सवाल-जवाब की दस अहम बातें-

  • राहुल ने कहा कि टिकट उन्हीं को दिया जाएगा जिनका कुर्ता फटेगा व गीला होगा. यानी जो पार्टी के लिए मेहनत करेगा उसी को टिकट मिलेगा.
  • गुटबाजी पर राहुल गांधी ने कहा, जो भी पार्टी के खिलाफ काम करेगा उस पर कार्रवार्इ की जाएगी.
  • कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि युवा जरूरी हैं, लेकिन अनुभव भी जरूरी है इसलिए शीला को सीएम का कैंडिडेट बनाया गया है.
  • शीला दीक्षित विकास का चेहरा हैं. शीला ने दिल्ली में विकास किया है, इसलिए उन्हें यहां प्रोजेक्ट किया गया है.
  • कांग्रेस यूपी में अपनी ताकत दिखाएगी, पार्टी पूरी ताकत के साथ यूपी में चुनाव लड़ेगी.
  • हर नेता को कोर्इ न कोर्इ जिम्मेदारी दी जाएगी.
  • राहुल ने कहा कि यूपी में अगली सरकार कांग्रेस की होगी. कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएगी.
  • जनता के बीच जाने वाले नेताओं को मौका मिलेगा. जो जमीन पर दिखेंगे उन्हीं को पार्टी आगे बढ़ाएगी.
  • गरीब से गरीब व्यक्ति तक अपनी आवाज पहुंचाएंगे और उनकी आवाज बनेंगे.
  • राहुल गांधी ने कहा, कांग्रेस झूठ की राजनीति नहीं करती, बीजेपी, सपा आैर बसपा झूठ का पुलिंदा है.

First published: 30 July 2016, 3:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी