Home » इंडिया » Congress will not propose Rahul Gandhi Name for PM post
 

'2019 चुनाव में PM उम्मीदवार के लिए राहुल गांधी का नाम नहीं देगी कांग्रेस'

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 October 2018, 11:05 IST

2019 चुनावों के चलते हर पार्टी तैयारियों में लगी है. इस बीच सत्ता में काबिज भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए विपक्षी दलों ने गठबंधन की भी तैयारी की लेकिन कई राजनैतिक कारणों से कुछ राज्यों में ये गठबंधन टूट गया. इसी सियासी हलचल के बीच कांग्रेस की तरफ से एक नया बयान आया है. पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने न्यूज़ 18 तमिल से बात चीत में कहा है कि 2019 आम चुनावों में कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद के उम्‍मीदवार के तौर पर घोषित नहीं करेगी. उन्‍होंने कहा, ''राहुल ही नहीं कांग्रेस अन्‍य किसी भी व्‍यक्ति की दावेदारी की घोषणा नहीं करेगी.''

कांग्रेस चुनावों के लिए काफी लंबे समय से क्षेत्रीय पार्टियों को एकसाथ लाने की कोशिश में है जिससे कि 2019 में एक मजबूत विपक्ष के रूप में बीजेपी का सामना किया जा सके. कांग्रेस इस गठबंधन को अपने नेतृत्व में रखना चाहती है लेकिन इसे लेकर क्षेत्रीय पार्टियों की राय एकसमान नहीं है. इस मसले पर बात करते हुए चिदंबरम ने कहा, “हमने कभी नहीं कहा कि हम राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं. जब कुछ कांग्रेस नेताओं ने इस तरह की बात की थी तब ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी ने इस पर दखल दिया था और उनसे ऐसी बातें नहीं करने को कहा था. हम बीजेपी को सत्ता से बाहर करना चाहते हैं. हम एक वैकल्पिक सरकार बनाना चाहते हैं जो प्रोग्रेसिव हो, व्यक्ति की आजादी का सम्मान करे, टैक्स टेररिज्म को बढ़ावा न दे, महिलाओं-बच्चों को सुरक्षा दे और किसानों की स्थिति में सुधार करे.”

राम मंदिर को लेकर मोदी के मंत्री के धमकी भरे बोल, हिन्दुओं की नफरत ज्वाला में बदल गई तो...

पूर्व वित्त मंत्री ने कांग्रेस की चुनावी रणनीती के बार में आगे कहा, “हम एक गठबंधन तैयार करना चाहते हैं. प्रधानमंत्री पद का फैसला चुनाव के बाद गठबंधन के सभी साथी मिलकर करेंगे.” चिदंबरम ने कहा कि बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों का संयुक्‍त वोट शेयर भी 50 फीसदी से कम है.

इसी के साथ उन्होंने आरोप भी लगाया कि क्षेत्रीय पार्टियों को कांग्रेस के साथ आने से केंद्र की बीजेपी सरकार रोक रही है. ऐसा करने के लिए बीजेपी भय का माहौल बनाने की कोशिश कर रही है. वहीं इस मामले में राहुल गांधी ने कहा था कि यदि सहयोगी पार्टियां एक मत से तैयार होंगीं तो वह प्रधानमंत्री बनने के लिए तैयार हैं. हालांकि इसी के साथ उन्होंने ये जोर दिया था कि अभी उनका मुख्य फोकस सत्ता से बीजेपी को हटाना है.

First published: 22 October 2018, 11:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी