Home » इंडिया » Construction of grand Ram Mandir will start from 2020 after seeing Muhurta Sangh sutra
 

मुहूर्त देखकर 2020 से शुरू होगा भव्य राम मंदिर का निर्माण: संघ सूत्र

न्यूज एजेंसी | Updated on: 10 November 2019, 9:59 IST

अयोध्या में राम मंदिर के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट की ओर से फैसला देने के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सूत्रों का कहना है कि अगले साल 2020 से निर्माण शुरू हो जाएगा. इसके लिए शुभ घड़ी (मुहूर्त) देखी जाएगी. इस समय जिस जगह चबूतरे पर रामलला विराजमान हैं, वहीं बनने जा रहे मंदिर का गर्भगृह होगा.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक ट्रस्ट के जरिए अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होना है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से तीन महीने के भीतर ट्रस्ट गठित करने को कहा है. अब इस ट्रस्ट में शामिल होने वाले चेहरों को लेकर सभी की निगाहें टिकीं हैं.

सूत्र बता रहे हैं कि जिस तरह से 1951 में गुजरात में बकायदा धार्मिक चैरिटेबल ट्रस्ट बनाकर सोमनाथ मंदिर का निर्माण किया गया, उसी तरह से राम मंदिर बनाने के लिए भी ट्रस्ट गठित होगा. इस ट्रस्ट में सरकारी प्रतिनिधि और राम मंदिर आंदोलन से जुड़े रहे संघ परिवार के संगठनों के लोग शामिल हो सकते हैं.

अयोध्या: राम जन्मभूमि पर आए फैसले पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान

अयोध्या केस: 1990 से राम मंदिर के पत्थर तराश रहा था ये शख्स, फैसले से पहले हो गई मौत

Ayodhya Verdict: रामजन्मभूमि न्यास को सुप्रीम कोर्ट ने क्यों दी जमीन

First published: 10 November 2019, 9:59 IST
 
अगली कहानी