Home » इंडिया » coronavirus : 5 cats died in Kerala corona virus ward, scientists trying to find out the reason
 

केरल में कोरोना वायरस वार्ड में मिली 5 बिल्लियों की हुई मौत, कारण जानने में जुटे वैज्ञानिक

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2020, 15:29 IST

केरल के कासरगोड जिले में कोरोना वायरस रोगियों के वार्ड में मिली पांच बिल्लियों की मौत की खबर है. एक रिपोर्ट के अनुसार तिरुवनंतपुरम के राज्य पशु रोग केंद्र में विस्तृत जांच के लिए पशुपालन विभाग ने इन पांच बिल्लियों के महत्वपूर्ण अंगों को भेजा है. एनिमल डिजीज कंट्रोल प्रोजेक्ट के कासरगोड जिला समन्वयक डॉ. टीटो जोसेफ ने कहा कि COVID-19 का बिल्लियों की प्रारंभिक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कोई भी खुलासा नहीं हुआ है. जरूरत पड़ने पर अंगों को आगे की जांच के लिए भोपाल में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज लैब भेजा जाएगा.

तनाव हो सकता है मौत का कारण

विशेषज्ञों ने इस ओर इशारा किया है कि तनाव उनकी मृत्यु का कारण भी हो सकता है क्योंकि वार्ड से निकाले जाने के बाद बिल्लियों को एक छोटे टोकरे में रखा गया था, जिसमें हवा के लिए सीमित मार्ग था. बिल्लियों को COVID -19 वार्डों में घूमते हुए पाया गया और उन्हें 28 मार्च को डॉग स्नैचरों द्वारा पकड़ा गया था, जिन्हें जिला कलेक्टर के एक निर्देश के बाद पशुपालन विभाग द्वारा बुलाया गया था. 


कासरगोड में एनिमल बर्थ कंट्रोल सेंटर में टोकरा रखने के दो दिन बाद मादा बिल्ली की मौत हो गई. बाद में दो और बिल्लियाँ और बिल्ली के बच्चे भी मर गए. जोसेफ ने कहा ''आवारा बिल्लियों को तुरंत कैद कर लिया गया था जबकि क्रेट उनके अनुकूल नहीं था. इसलिए हमारा मानना है कि तनाव उनकी मृत्यु का कारण हो सकता है. चूंकि अभी कोरोना वायरस का डर है इसलिए हम चांस नहीं ले सकते हैं.”

एमजे सेतुलक्ष्मी जो एक महामारी विशेषज्ञ हैं और डॉक्टरों की उस टीम का हिस्सा थे, जिन्होंने बिल्लियों का पोस्टमॉर्टम भी किया था, ने कहा कि इस दौरान COVID-19 का कोई भी संकेत नहीं मिला. सेंट्रल जू अथॉरिटी ने भारत के सभी प्राणी उद्यानों के लिए एक रेड अलर्ट दिया और 14 दिनों में जानवरों के नमूनों का परीक्षण करने के लिए कहा है. इससे पहले न्यूयॉर्क के ब्रोंक्स चिड़ियाघर में एक बाघ को कोरोवायरस पॉजिटिव पाया गया था.

Coronavirus : 10 अप्रैल- दुनियाभर में मौत का आंकड़ा 100000 के करीब, 16 लाख संक्रमित

First published: 10 April 2020, 15:13 IST
 
अगली कहानी