Home » इंडिया » Coronavirus: All member of Lahaul Thorang village in Himachal Pradesh got Covid infected except one
 

Coronavirus: इस गांव के सारे लोग हो गए कोरोना पॉजिटिव, वायरस से ऐसे बचा एकमात्र शख्स

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 November 2020, 14:19 IST

Coronavirus: देश के सभी राज्यों में कोरोना वायरस का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है. हिमाचल प्रदेश के एक गांव में तो पूरे के पूरे लोग कोरोना से संक्रमित हो गए. हिमाचल प्रदेश की लाहौल घाटी के थोरांग गांव में रहने वाले सारे लोग कोरोना संक्रमित पाए गए. बस एक 52 साल के भूषण ठाकुर ही हैं जिनको कोरोना छू भी नहीं पाया.

गांव में सभी लोगों के कोरोना संक्रमित होने से ज्यादा हैरान करने वाली बात यह है कि सबके साथ रहते हुए भी एक शख्स कोरोना वायरस की चपेट में नहीं आया. लोग जानना चाहते हैं कि आखिर यह हुआ कैसे? इस सवाल के बारे में पूछे जाने पर भूषण ठाकुर बताते हैं सावधानी बरतकर इस खतरनाक बीमारी से वह बचे हुए हैं.

भूषण ठाकुर ने बताया कि वह एक अलग रूम में रह रहे हैं. इसके अलावा पिछले चार दिनों से वह अपना खाना खुद बना रहे हैं. उन्होंने बताया कि जब सबका टेस्ट पॉजिटिव आया, तब तक वह भी अपने परिवार के साथ रह रहे थे. लेकिन इसके बाद वह सभी प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि कोरोना शुरू होने के बाद से ही वह हाथ धोने और फेस मास्क पहनने को लेकर सीरियस थे.

कोरोना वायरस का बढ़ता प्रकोप, देश के इस शहर में रात 9 से सुबह 6 बजे तक रोजाना लगेगा कर्फ्यू

वह बताते हैं कि उन्होंने सार्वजनिक स्थानों पर हमेशा सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा. भूषण कहते हैं कि लोगों को इस बीमारी को हल्के में नहीं लेना चाहिए. सर्दियों में इस बीमारी से अधिक सावधानी बरतनी चाहिए. बता दें कि आबादी और संक्रमित केस के अनुपात में लाहौल स्फीति घाटी प्रदेश में सबसे अधिक प्रभावित जिला है.

मनाली-लेह हाईवे पर स्थित इस गांव में सिर्फ 42 लोग रहते हैं. अधिकतर लोग सर्दियों की वजह से कुल्लू जा चुके हैं. पिछले दिनों कोरोना जांच कराई तो पता चला कि गांव में वर्तमान में रह रहे 42 में से 41 लोगों का कोरोना सैंपल पॉजिटिव आया है. वहीं परिवार में पांच लोगों के संक्रमित होने के बाद भी भूषण कुमार कोरोना वायरस की चपेट में आने से बचे हुए हैं.  

बताया जा रहा है कि कुछ दिनों पहले एक धार्मिक कार्यक्रम में गांव के सभी लोग इकट्ठा हुए थे. इसके बाद से ही गांव में कोरोना कम्युनिटी ट्रांसमिशन हो गया. लाहौल-स्फीति के मेडिकल ऑफिसर का कहना है कि उनकी टीम ज्यादा से ज्यादा लोगों को आगे आकर टेस्ट करवाने को कहती है. अब तक जिले में 856 लोग कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं.

Coronavirus: 47 दिनों का टूटा रिकॉर्ड, भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या हुई 90 लाख के पार

Coronavirus: इस वैक्सीन के ट्रायल के नतीजे आए शानदार, कोरोना के खिलाफ 99 फीसदी कारगार, भारत में होगा

First published: 20 November 2020, 13:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी