Home » इंडिया » Coronavirus: Coronavirus screening also done for Rohingya, participated in Tabligi Jamaat programs: Home Ministry
 

Coronavirus: रोहिंग्या की भी करें कोरोना वायरस स्क्रीनिंग, तबलीगी जमात कार्यक्रमों में लिया था भाग : गृह मंत्रालय

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 April 2020, 11:18 IST

coronavirus : गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को रोहिंग्या शरणार्थियों की कोरोना वायरस स्क्रीनिंग करने के लिए कहा है. ऐसी आशंका है कि इनमें से कई ने दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए तबलीगी जमात कार्यक्रम में भाग लिया था. मंत्रालय ने कहा कि हैदराबाद में शिविरों में रहने वाले रोहिंग्या सदस्यों ने हरियाणा के नूंह जिले में आयोजित तबलीगी जमात के कार्यक्रम में भाग लिया था.

मंत्रालय ने कहा है कि इनमें से कई रोहिंग्या निज़ामुद्दीन मरकज के कार्यक्रम में भी मौजूद थे. मंत्रालय के नोटिफिकेशन में कहा गया है कि दिल्ली के श्रम विहार और शाहीन बाग के पड़ोस में रहने वाले शरणार्थी, जो तब्लीगी जमात की सभाओं में गए थे, वो अपने शिविरों में नहीं लौटे है. मंत्रालय ने पंजाब के डेराबस्सी और जम्मू-कश्मीर के जम्मू में उन रोहिंग्या मुसलमानों की मौजूदगी के बारे में जानकारी दी है, जो तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए थे.


कहा गया है, रोहिंग्या मुसलमानों और उनके संपर्कों की COVID-19 जांच करने की आवश्यकता है. मंत्रालय ने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में लगभग 40,000 रोहिंग्या शरणार्थी हैं. मार्च में आठ रोहिंग्या मुसलमानों को जम्मू में क्वारंटाइन किया गया था क्योंकि वे निजामुद्दीन मण्डली में शामिल हुए थे.

पिछले महीने तबलीगी जमात सम्मेलन में हजारों भारतीय और सैकड़ों विदेशी शामिल हुए थे. 5 अप्रैल को स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि धार्मिक सभा के कारण भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़ी है. प्रवर्तन निदेशालय ने तबलीगी जमात के नेता मौलाना साद कांधलवी, ट्रस्ट से जुड़े जमात और अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है.

इंडियन नेवी के 20 से ज्यादा जवान कोरोना वायरस की चपेट में, INS Angre में थे मौजूद

First published: 18 April 2020, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी