Home » इंडिया » Coronavirus: Crematoriums left the dead body on the pyre on Manikarnika Ghat, Varanasi
 

कोरोना वायरस: महिला का शव लेकर पहुंचे थे परिजन, पता चली ऐसी खबर, डर के भागे शवदाह करने वाले लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 May 2020, 15:09 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है. देश में कोरोना वायरस की चपेट में आकर अबतक 2100 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. इस बीच कोरोना वायरस का भय लोगों में भीतर तक जा घुसा है. ऐसा ही एक मामला वाराणसी के मणिकर्णिका घाट पर देखने को मिला. 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मणिकर्णिका घाट पर एक महिला का शव लेकर उसके परिजन गए थे. इस दौरान एक ऐसी खबर फैली कि शवदाह करने वाले लोगों ने महिला का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया. यही नहीं वहां मौजूद शवदाह करने वाले सारे लोग मौके से भाग गए.

जिस महिला का शव मणिकर्णिका घाट पर गया था उसे कुछ जवान सेना की वर्दी में लेकर गए थे. जैसे ही सेना के जवान महिला के शव को लेकर घाट पर पहुंचे. उस समय महिला का शव पूरी तरह से हुआ था. इसके अलावा शव लेकर गए कई लोग पीपीई किट पहने हुए थे. जैसे ही शवदाह करने वाले लोगों ने उन्हें देखा वह वहां से भाग निकले.

कोरोना वायरसः दुनियाभर में अब तक 2.83 लाख से ज्यादा मौतें, भारत में संक्रमितों की संख्या 67 हजार के पार

दरअसल, पीपीई किट पहने लोगों को देखकर वहां कोरोना वायरस संक्रमित शव होने की अफवाह फैल गई. इसके बाद शवदाह करने वाले लोगों ने महिला का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया. ये सारे लोग घाट छोड़कर मौके से भाग गए. हालांकि इससे पहले ही महिला के शव को चिता पर रख दिया गया था.

लेकिन जब शवदाह करने वाले लोग भाग गए ते काफी देर तक महिला का शव चिता पर ही पड़ा रहा. इसके बाद मामले को निपटाने के लिए पुलिस को वहां आना पड़ा. एक घंटे के लंबे इंतजार के बाद जब पुलिस ने हस्तक्षेप किया तो महिला का अंतिम संस्कार किया गया.

Coronavirus Update : पिछले 24 घंटे में आये 4000 से ज्यादा नए मामले, 97 लोगों की हुई मौत

12 मई से चलाई जा ट्रेनों में कितना होगा किराया, कैसे होगी बुकिंग, यहां हैं कई महत्वूर्ण जानकारियां

First published: 11 May 2020, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी