Home » इंडिया » Coronavirus: Do not remain in the false hope that the dangerous corona will be over as soon as summer comes
 

Coronavirus : झूठी उम्मीद में न रहे कि गर्मियां आते ही खतरनाक कोरोना खत्म हो जायेगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 March 2020, 11:09 IST

खतरनाक कोरोनावायरस के भारत में 47 और पूरी दुनिया में एक लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. भारत ने मंगलवार को ईरान में फंसे 58 कोरोनोवायरस प्रभावित लोगों का रेस्क्यू किया. IAF हेलिकॉप्टर आज सुबह गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर उतरा. IAF के C-17 ग्लोबमास्टर सैन्य विमान सोमवार रात हिंडन एयरबेस से ईरान के लिए रवाना हुए था. पिछले दो सप्ताह में यह दूसरा रेस्क्यू ऑपरेशन है. अनुमानित 1200 भारतीय ईरान में रहते हैं.

गर्मियों में भी सावधानी बरतने की आवश्यकता 


इस बीच कई लोग इस उम्मीद में हैं कि जैसे ही गर्मियों का मौसम बढ़ेगा, खतरनाक कोरोनावायरस का असर भी समाप्त हो जाएगा. विशेषज्ञों का मानना है कि यह जरूरी नहीं है कि गर्मियां कोरोना के असर को कम कर सकती है. इससे पहले एक रिसर्च में दावा किया गया था कि COVID-19 के मामले औसत तापमान 8.72 डिग्री सेल्सियस को पार करने के बाद कम हो जायेंगे. चीन के अध्ययन में पाया गया कि ठंडे क्षेत्रों में, औसत तापमान में 1 सेल्सियस की वृद्धि के कारण मामलों में वृद्धि 0.83 से कम हो गई है. 

 

इस बीच चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र वुहान की यात्रा की. मंगलवार की सुबह जहां वह महामारी नियंत्रण प्रयासों का निरीक्षण करने पहुंचे. चीनी राष्ट्रपति ने हालही में कहा कि कोरोना से लड़ने केलिए लगातार शोध की जरूरत है और चीन के  चिकित्सक लगातार इस रिसर्च में लगे हुए हैं.

भारत मे नई दिल्ली, जम्मू और कश्मीर, कर्नाटक, महाराष्ट्र, पंजाब और उत्तर प्रदेश में कोरोना से पुष्टि किए गए मामलों की संख्या बढ़कर 47 हो गई. 

कोरोना वायरस से इटली में बेकाबू हुए हालात, एक दिन में 97 लोगों की मौत, अबतक 463 मरे

First published: 10 March 2020, 11:09 IST
 
अगली कहानी