Home » इंडिया » Coronavirus: Finance Minister Nirmala Sitharaman addresses 4th press conference on 20 lakh crore
 

Coronavirus: वित्त मंत्री की चौथी प्रेस कॉन्फ्रेंस, रक्षा क्षेत्र और सेना पर विशेष फोकस

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2020, 17:00 IST

Coronavirus: कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज चौथे प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. आर्थिक पैकेज की चौथी किस्त की घोषणा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में संरचनात्मक सुधारों पर सरकार ध्यान दे रही है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत की बात कही है. इसके तहत बिजनेस आसान करने के लिए कई कदम उठाए गए हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि वैश्विक चुनौतियों का भारत को सामना करना होगा तथा मुकाबले के लिए तैयार रहना पड़ेगा. सरकार ने नीतिगत सुधार शुरू किए हैं. इस दौरान कई क्षेत्रों में सुधार की जरूरत है.

वित्त मंत्री ने कहा कि भारत को अधिक आत्मनिर्भर बनाने के लिए निवेश को फास्टट्रैक किया जा रहा है. प्रधानमंत्री मोदी इस देश में सुधार के लिए रिफॉर्म की बात करते हैं. आज देश में सकारात्मक माहौल बना हुआ है. बुनियादी सुधारों की तरफ सरकार का ध्यान है इससे कारोबार करना देश में आसान हो सके. 

वित्त मंत्री ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में एक बड़े सुधार की आवश्यकता है. उन्होंने बताया कि  ऐसे अस्त्रों, प्लेटफॉर्मों के आयात पर प्रतिबंध लगाया जाएगा. इनका निर्माण भारत में होगा. वित्त मंत्री ने बताया कि प्रतिबंध सूची को हर वर्ष बढ़ाया जाएगा. रक्षा सेक्टर में विदेशी निवेश की सीमा 49 फीसदी से 74 फीसदी कर दी गई है. ऑर्डिनेंस फैक्टरी बोर्ड का निगमीकरण किया जाएगा.

वित्त मंत्री ने बताया कि उनका फोकस 8 क्षेत्रों में होगा. इसमें कोयला, खनिज और एयरपोर्ट, इसरो तथा बिजली वितरण को लेकर कदम उठाए जाएंगे. मोदी सरकार का ध्यान बुनियादी सुधारों पर है. वहीं कारोबार को आसान करना लक्ष्य है. रक्षा क्षेत्र पर सरकार का मुख्य फोकस है. 

वित्त मंत्री ने कहा कि 50,000 करोड़ रुपये बुनियादी ढांचे पर व्यय किए जाएंगे. 50 नए कोल ब्लॉकों की नीलामी होगी तथा मेक इन इंडिया पर सरकार का ज़ोर होगा. उन्होंने बताया कि 3,376 औद्योगिक विकास क्षेत्रों में लाभ होगा. इसके साथ ही सरकार खनिज सेक्टर में भी निजी निवेश को बढ़ावा देगी. ऐसे अस्त्रों/प्लेटफॉर्मों के आयात पर प्रतिबंध, जिनका निर्माण भारत में आवश्यक मानकों पर हो सकता है.

Coronavirus: योगी सरकार का तोहफा, रेहड़ी-पटरी व्यापारियों को मिलेगा 10000 रुपये का लोन

Coronavirus: लॉकडाउन-4 में चल सकती है दिल्ली मेट्रो, देखिए सोशल डिस्टेंसिंग की तैयारी

First published: 16 May 2020, 16:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी