Home » इंडिया » Coronavirus: Four crores migrant workers affected by lockdown in India says world bank
 

Coronavirus: लॉकडाउन से भारत में चार करोड़ मजदूरों का काम हुआ प्रभावित- विश्व बैंक

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 April 2020, 20:32 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस का प्रकोप दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है. इस बीच विश्व बैंक की एक रिपोर्ट ने दावा किया है कि लॉकडाउन से देश के चार करोड़ प्रवासी मजदूरों को प्रभावित किया है. विश्व बैंक के अनुसार, पिछले करीब एक महीने से भारत में जारी देशव्यापी लॉकडाउन से लगभग चार करोड़ प्रवासी कामगार प्रभावित हुए हैं.

विश्व बैंक ने बुधवार को एक रिपोर्ट जारी की है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉकडाउन से भारत के चार करोड़ से अधिक प्रवासी मजदूरों की आजीविका पर असर पड़ा है. रिपोर्ट में कहा गया कि लॉकडाउन शुरू होने के बाद पिछले कुछ दिनों में 50 से 60 हजार लोग शहरी इलाकों से ग्रामीण क्षेत्रों की ओर चले गए हैं.

कोरोना संकट: देश के करोड़ों सरकारी कर्मचारियों को बड़ा झटका, अब डेढ़ साल तक नहीं बढ़ेगा DA

विश्व बैंक ने ‘प्रवासी के नजरिये से कोरोना वायरस संकट’ यानि कोविड-19 क्राइसिस थ्रू ए माइग्रेशन लेंस नामक यह रिपोर्ट जारी की है. इसके मुताबिक देश के आंतरिक प्रवास की तादाद अंतरराष्ट्रीय प्रवास के मुकाबले करीब ढाई गुना है. रिपोर्ट में कहा गया कि लॉकडाउन के चलते लाखों प्रवासी मजदूरों की नौकरी छूट गई. 

इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग के कारण भारत और लैटिन अमेरिका के कई देशों में बड़े पैमाने पर आंतरिक प्रवासियों को शहरों से अपने घर वापस लौटना पड़ा है. रिपोर्ट के अनुसार, कोविड-19 की रोकथाम के उपायों ने इस महामारी को फैलाने में योगदान दिया है. विश्व बैंक ने भारत समेत कई देशों से कहा है कि सरकारों को नकदी और अन्य सामाजिक कार्यक्रमों के जरिए प्रवासी मजदूरों की मदद करनी चाहिए.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, अब तक भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 21,393 पर पहुंच गई है. देश में कोरोना से अब तक 681 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि राहत की बात यह है कि इस खतरनाक बीमारी को हराकर 4,258 मरीज अपने घर वापस लौटने में कामयाब भी हुए हैं.

 

दिल्ली: जहांगीरपुरी में एक ही गली में मिले 46 कोरोना पॉजिटिव, पूरे इलाके में मचा हड़कंप

कोरोना वायरस: पिछले 24 घंटे में 1229 नए मामले आए सामने, 34 लोगों की हुई मौत

First published: 23 April 2020, 20:32 IST
 
अगली कहानी