Home » इंडिया » Coronavirus: ICMR changed strategy, now these people will also be tested
 

Coronavirus: ICMR ने बदली रणनीति, अब इन लोगों का भी होगा कोरोना वायरस टेस्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 March 2020, 12:00 IST

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए अपनी परीक्षण रणनीति को संशोधित किया है. ICMR का कहना है कि अब अब गंभीर असाध्य श्वसन बीमारी (बुखार और खांसी और / या सांस की तकलीफ) के मरीजों का भी परीक्षण किया जायेगा. अब तक ICMR उन्ही लोगों की जांच कर रहा था, जो सीधे पॉजिटिव पाए गए व्यक्ति के संपर्क में आये हों या जोखिम वाले लोगों के संपर्क में थे. भारत में COVID-19 पॉजिटिव मामलों की संख्या 21 मार्च तक 234 हो गई है.

संशोधित रणनीति में कहा गया है कि परीक्षण उन सभी लोगों का टेस्ट किया जायेगा जिन्होंने पिछले 14 दिनों में अंतर्राष्ट्रीय यात्रा की है. आईसीएमआर की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है "इसमें यात्री को 14 दिनों तक घर से बाहर रहना चाहिए और उनका परीक्षण तभी किया जाना चाहिए जब उनमें बुखार, खांसी, सांस लेने में कठिनाई जैसे लक्षण दिखाई दे.


कोरोना वायरस से अबतक पांच लोगों की मौत हुई है जबकि कई लोग इस वायरस की चंगुल से बाहर निकले हैं. भारत में अब भी कोरोना वायरस के 110 एक्टिव मामले हैं. 22 मार्च को सुबह 7 बजे से 9 बजे तक 'जनता कर्फ्यू' का आह्वान किया गया है. राजस्थान में कोरोना वायरस के छह नए मामले सामने आये हैं. जिनमें से पांच भीलवाड़ा और एक जयपुर में है. इसके साथ राजस्थान में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 23 हो गई है. हालांकि उनमें से तीन सही हो गए हैं.

Coronavirus से जुड़ा हो कोई भी सवाल, WhatsApp पर मिलेगा जवाब, ये है WHO का नंबर

First published: 21 March 2020, 12:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी