Home » इंडिया » Coronavirus: Khattar Government reserved 22000 crore rupees for farmers in Haryana
 

कोरोना संकट: किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, BJP सरकार ने रिजर्व किए 22 हजार करोड़ रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2020, 13:10 IST

Coronavirus: कोरोना संकट के बीच हरियाणा की बीजेपी सरकार किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी लेकर आई है. मनोहर लाल खट्टर सरकार ने संकट के दौर में फसलों के भुगतान का खास इंतजाम किया है. इसके लिए सरकारने गेहूं बेचने वाले किसानों के लिए 22 हजार करोड़ रुपये रिजर्व रखा है. इससे किसानों को तुरंत पैसा मिल सकेगा.

राज्य के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इस बाबत जानकारी दी. उन्होंने बताया कि खट्टर सरकार किसानों की उपज का एक-एक दाना खरीदने के लिए तैयार है. उन्होंने बताया कि प्रदेश में 15 अप्रैल से ही सरसों और 20 अप्रैल से गेहूं की खरीददारी जारी है. सरकार इस वर्ष 75 लाख टन गेहूं खरीदेगी.

उपमुख्यमंत्री चौटाला ने बताया कि किसानों के एक-एक दाने का पैसा उन्हें मिले इसके लिए सरकार ने आढ़तियों को उनके पुराने बैंक खातों से खरीद का भुगतान करने की अनुमति दी है. उन्होंने बताया कि लगभग 22 हजार करोड़ रुपये गेहूं की खरीद के बाद भुगतान के लिए रिजर्व रखा गया है.

Coronavirus: लॉकडाउन से भारत में चार करोड़ मजदूरों का काम हुआ प्रभावित- विश्व बैंक

इससे अलावा आढ़तियों को भी उनकी आढ़त का 2.5 प्रतिशत पैसा मिलता रहे, इसके लिए राज्य सरकार ने अलग से 275 करोड़ रुपये रिजर्व रखे हैं. उन्होंने बताया कि जैसे ही मंडियों से गेहूं का उठान होगा किसान व आढ़ती दोनों का भुगतान हो जाएगा. इन मंडियों में कोरोना संकट से बचने के लिए मास्क, सेनेटाइर, तिरपाल, पंखा, बारदाना, झरना आदि की व्यवस्था की गई है.

डिप्टी सीएम ने हरियाणा सरकार द्वारा पंजाब सरकार से अधिक गेहूं खरीद करने का दावा किया. उन्होंने बताया कि सरकार ने कोरोना संकट को देखते हुए खरीद प्रक्रिया से जुड़े सभी व्यक्तियों के लिए 10-10 लाख रुपये का जीवन बीमा कवर देने का निर्णय लिया है, फिर चाहे वह किसान, आढ़ती, मजदूर या खरीद एजेंसियों के कर्मचारी हों.

Coronavirus : विदेशों में फंसे छात्र 3 मई तक का करें इंतज़ार- विदेश राज्य मंत्री

Coronavirus: 24 अप्रैल- दुनियाभर में मौत का आंकड़ा 2 लाख के करीब, भारत में 23,000 से ज्यादा केस

First published: 24 April 2020, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी