Home » इंडिया » Coronavirus: Massive crowd at bandra stand of migrants workers defy lockdown in Mumbai
 

लॉकडाउन में बड़ी लापरवाही, मुबंई के बांद्रा में भारी संख्या में प्रवासी मजदूर जमा, घर जाने की कर रहे मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 April 2020, 18:52 IST

Coronavirus: महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के बांद्रा में हजारों प्रवासी मजदूर इकट्ठा हो गए हैं. वह अपने घर जाने की मांग कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि बढ़ती भीड़ के कारण वहां भगदड़ मच गई थी. इस दौरान पुलिसकर्मियों को इसे नियंत्रण में लाने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा. पिछले दिनों इस तरह की लापरवाही दिल्ली के आनंद विहार में देखने को मिली थी.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को लेकर देश में लॉकडाउन की अवधि 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है. इसके बाद मजदूर अनियंत्रित हो गए. वह भारी संख्या में बांद्रा पहुंच गए. यहां पहुंचकर वे अपने-अपने घरों की तरफ जाने की मांग करने लगे. इस दौरान अनियंत्रित भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठी चलानी पड़ी.

इसे लेकर अब राजनीति भी शुरू हो गई है. आदित्य ठाकरे ने इसे लेकर केंद्र सरकार पर ठीकरा फोड़ा है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए ट्वीट कर कहा, "केंद्र सरकार द्वारा मजदूरों के घर वापस जाने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई. वे खाना या आश्रय नहीं चाह रहे हैं. वे अपने घर वापस जाना चाह रहे हैं."

 

आज सुबह 10 बजे पीएम मोदी ने पहले  लॉकडाउन के 21वें दिन देश के नाम संबोधन में कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए 3 मई तक लॉकडाउन जारी रखने की बात कही थी. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा था कि 20 अप्रैल के बाद कुछ छूट दी जा सकती है.

कोरोना वायरस: लॉकडाउन बढ़ने के बाद ट्रेनें चलेंगी या नहीं, भारतीय रेलवे ने जारी किए निर्देश

कोरोना वायरस: आपने भी मान ली PM मोदी की यह बात, तो मास्क पर नहीं खर्च करना पड़ेगा पैसा

First published: 14 April 2020, 18:43 IST
 
अगली कहानी