Home » इंडिया » Coronavirus: Migrant worker death for going to Chattisgarh by bicycle accident in lucknow
 

दो बच्चों और पत्नी संग लखनऊ से छत्तीसगढ़ साइकिल से निकला मजदूर, ट्रक ने मारी टक्कर, दर्दनाक मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2020, 16:10 IST

Migrant Workers Death: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से छत्तीसगढ़ साइकिल से जा रहे एक मजदूर और उसकी पत्नी की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई. दुख की बात यह है कि इस घटना में मजदूर के दो छोटे-छोटे बच्चे भी उनके साथ थे. इस दुर्घटना में बच्चों को चोटें आई हैं. मृतक दंपति के पांच बच्चे हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, छत्तीसगढ़ का रहने वाला 35 साल का कृष्णा साहू लखनऊ के जानकीपुरम इलाके में झोपड़पट्टी में अपनी पत्नी और तीन साल के बेटे और चार साल की बेटी के साथ रहता था. दोनों पति-पत्नी लखनऊ इसलिए आए थे कि किसी तरह मेहनत-मजदूरी कर अपना और अपने बच्चों का पालन-पोषण करते थे.

दोनों पति-पत्नी को जहां भी काम मिलता था वहां मजदूरी कर अपना और अपने बच्चों का पेट भरते थे. इस दौरान लॉकडाउन हो गया और पिछले लगभग 40 दिनों से वह काम पर नहीं जा पा रहे थे. इस दौरान उनके बचाए पैसे भी खत्म हो गए थे. जब पेट की भूख ने जवाब देना शुरू कर दिया तो दोनों पति-पत्नी ने अपने छोटे बच्चों के साथ साइकिल से 840 किमी छत्तीसगढ़ अपने गांव जाने की सोची.

Coronavirus : 24 घंटे में 3000 से ज्यादा मामले, अब COVID-19 के साथ रहना सीखना होगा- हेल्थ मिनिस्ट्री

लॉकडाउन का लंबा समय परिवार ने काटने के बाद पैसे की किल्लत होने के चलते साइकिल से अपने घर छत्तीसगढ़ रवाना हुए. वह जानकीपुरम से साइकिल से छत्तीसगढ़ के लिए निकल पड़ा. कुछ किमी ही चला था कि रात के अंधेरे में लखनऊ के शहीद पथ पर एक अज्ञात गाड़ी ने कृष्णा की साइकिल में पीछे से जोरदार टक्कर मार दी. 

टक्कर इतनी जोर थी कि चारों साइकिल समेत उछलकर सड़क पर जा गिए. इस दौरान कृष्णा और प्रमिला को गंभीर चोटें आईं, बच्चे भी घायल हो गए थे. किसी तरह लोगों ने पुलिस को सूचना दी और पुलिस सभी को अस्पताल ले गई. लखनऊ के एक अस्पताल मे्ं इलाज के दौरान कृष्णा और प्रमिला ने दम तोड़ दिया. 

दम्पत्ति के कुल पांच बच्चे थे, जिसमें से तीन छत्तीसगढ़ में रहते हैं. उनकी एक बेटी की शादी हो गई है और वह गर्भवती है. उनकी बेटी की कभी भी डिलिवरी हो सकती है. इस कारण भी ये लोग साइकिल से छत्तीसगढ़ के लिए रवाना हुए थे. अब अचानक रास्ते में एक्सीडेंट हो गया और दोनो पति-पत्नी की मौत हो गई.

SBI को करोड़ों का चूना लगाकर एक और डिफाल्टर देश से फरार, CBI में दर्ज हुई शिकायत

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाने वालों के लिए खुशखबरी, एक हफ्ते में कर सकें भोलेनाथ के दर्शन

First published: 9 May 2020, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी