Home » इंडिया » Coronavirus: New symptoms in patient, tension increase in scientist
 

कोरोना वायरस के नए लक्षण आए सामने, दुनियाभर के वैज्ञानिकों में बढ़ी टेंशन

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 March 2020, 14:33 IST

Coronavirus: चीन समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ने तहलका मचा रखा है. दुनियाभर में 2 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं, 9 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना वायरस की चपेट में आकर अपनी जान गवां दी है. भारत में भी अबतक 4 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 200 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं.

इस महामारी की अबतक कोई दवा नहीं बनी है. इसके आम लक्षण सर्दी जुखाम की तरह ही हैं. लोगों से तमाम तरह की सावधानियां बरत इससे बचने की सलाह दी जा रही है. केंद्र सरकार भी पूरी तरह से लोगों को बचाने का प्रयास कर रही है.

जर्मनी के एक वायरोलॉजिस्ट का कहना है कि कोरोना वायरस की चपेट में 2020 में अधिक लोगों के मरने की संभावना है. जर्मनी के स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि यह वायरस 2 साल तक दुनियाभर में अपना प्रकोप फैला सकता है. अबतक 7000 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं, जबकि 44 लोगों की अबतक मौत हो चुकी है.

बुखार, गले में खराश, सूखी खांसी और घुटनों में दर्द इसके मुख्य लक्षण हैं, लेकिन इसके कुछ और नए लक्षण ने वैज्ञानिकों को टेंशन में डाल दिया है. वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना के मरीजों में सूंघने की छमता इतनी खराब हो जाती है कि वह बच्चों के गंदे डायपर तक नहीं सूंघ पाते.

First published: 20 March 2020, 14:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी