Home » इंडिया » Coronavirus: Passengers can't travel standing in Delhi Metro, only 50 passengers can travel in a compartment
 

कोरोना का दुष्प्रभाव: दिल्‍ली मेट्रो में खड़े होकर नहीं कर सकते यात्रा, एक डिब्बे में 50 यात्री ही कर सकते हैं सफर

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 July 2021, 12:53 IST
delhi metro (catch news)

Coronavirus: कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते दिल्ली मेट्रो में अभी भी खड़े होकर पैसेंजर यात्रा नहीं कर सकते हैं. मेट्रो ट्रेनों के डिब्बों में यात्रियों के खड़े होकर ट्रैवेल न करने का दिशा-निर्देश सात जून को जारी किया गया था. अब भी यात्रियों के खड़े होकर यात्रा करने की कोई अनुमति नहीं होगी.

दिल्ली में अप्रैल-मई के महीने में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान संक्रमण के मामलों में काफी वृद्धि देखने को मिली थी. इस दौरान काफी लोगों की मौतें हुई थी. हालांकि कोरोना के मामलों में पिछले कुछ हफ्तों में सुधार जरूर आया है, लेकिन सरकार अभी भी कोई कोताही नहीं बरतना चाहती है. यह बात जरूर है कि सरकार चरणबद्ध तरीके से शहरों को दोबारा खोल रही है.

दिल्ली में कोरोना महामारी को रोकने के लिए मेट्रों में यात्रा के मद्देनज़र कई प्रतिबंध लगाए गए थे. हालांकि अब ये प्रतिबंध हटाए जा रहे हैं. दिल्ली में फिरसे  शत प्रतिशत सीट क्षमता के साथ परिचालित करने का ऐलान किया गया है. 26 जुलाई से मेट्रो ट्रेनें पूरी सीट क्षमता के साथ चलेंगी. हालांकि तब भी यात्रियों के खड़े होकर यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी.

 

दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने अपने नए दिशा-निर्देश में कहा है कि 26 जुलाई से अगले आदेश तक दिल्ली मेट्रो में यात्रियों को लेकर पूरी सीट क्षमता के साथ यात्रा कर सकेंगे. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सिनेमा घर, मल्टीप्लेक्स भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोले जा सकते हैं. इसके अलावा शादी समारोह और अंतिम संस्कार में शामिल होने वालों की अधिकतम संख्या 100 कर दी गई है. 

Coronavirus ने फिर बढ़ाई टेंशन, पिछले 24 घंटे में आए 39742 नए केस, 535 लोगों की हुई मौत

Coronavirus: देश में कोरोना की तीसरी लहर कब और कैसे आएगी ! इन चार बातों पर करेगा निर्भर

First published: 25 July 2021, 12:53 IST
 
अगली कहानी