Home » इंडिया » Coronavirus: Patients infected from COVID19 again after recovery, increased anxiety
 

कोरोना वायरस: 91 मरीज ठीक होने के बाद लौटे थे घर, उनमें फिर से मिले COVID-19 के संक्रमण

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 April 2020, 16:31 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है. हालांकि इससे कुछ लोग ठीक होकर घर भी वापस जा रहे थे. लेकिन रिपोर्ट आ रही है कि मरीज ठीक होने के बाद दोबोरा कोविड-19 (COVID-19) के संक्रमण का शिकार हो रहे हैं. इस कारण वैज्ञानिकों की चिंता फिर से बढ़ने लगी है.

पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस से लड़ रही है. इस बीमारी की अभी तक कोई वैक्‍सीन नहीं आई है. इस कारण सबसे ज्‍यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि  दक्षिण कोरिया से एक खबर सबसे ज्यादा परेशान करने वाली सामने आ रही है. दक्षिण कोरिया में ठीक हुए मरीजों को कोरोना ने फिर से अपनी चपेट में ले लिया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दक्षिण कोरिया में कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद मरीजों को हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई थी, लेकिन घर जाने के बाद मरीजों में एक बार फिर कोविड-19 के संक्रमण दिखाई देने लगे हैं. 91 ऐसे मरीज मिले, जो पूरी तरह ठीक होने के बाद दोबारा कोरोना पॉजिटिव पाए गए. इसके बाद डॉक्टरों में हड़कंप मच गया है.

इस तरह से मरीजों के दोबारा कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से डॉक्टरों का कहना है कि ऐसे मरीजों की संख्या में इजाफा हो सकता है, क्योंकि यह अभी शुरुआत है. दक्षिण कोरिया के डॉक्टरों ने कहा कि हो सकता है कि मरीज दोबोरा संक्रमित न हुए हो, हो सकता है उनके शरीर में पहले से मौजूद वायरस फिर सक्रिय हो गए हों.

हालांकि अलग-अलग डॉक्टर अलग-अलग तर्क दे रहे हैं. कोई भी डॉक्टर फिर से मरीजों के संक्रमित होने को लेकर कोई ठोस वजह सामने नहीं रख पाया है. दक्षिण कोरिया में अब तक 211 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं. शुक्रवार को वहां 27 नए मामले सामने आए. यहां अब तक कोरोना वायरस के 10,450 केस सामने आ चुके हैं.

coronavirus: WHO ने मानी गलती, कहा- भारत में अभी नहीं हुआ है कोई कम्युनिटी ट्रांसमिशन

भारत में कोरोना फैलाने की गहरी साजिश, नेपाल के रास्ते 40-50 संक्रमित भेजने की कोशिश

First published: 11 April 2020, 16:20 IST
 
अगली कहानी