Home » इंडिया » coronavirus : PM Modi gave hints in meeting with MPs - it is not possible to open lock down even after April 14
 

पीएम मोदी ने मीटिंग में दिए संकेत- 14 अप्रैल के बाद भी लॉकडाउन खोलना संभव नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 April 2020, 16:10 IST

coronavirus: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि 14 अप्रैल को देशव्यापी लॉकडाउन को हटाना संभव नहीं होगा क्योंकि देश में कोरोना वायरस बीमारी के 5000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. प्रधानमंत्री ने राजनीतिक दलों के सांसदों के साथ मीटिंग में लॉकडाउन को लेकर बातचीत की. यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित की गई थी और इसमें संसद में चार या अधिक सदस्यों वाले दलों के सदस्य शामिल थे.

बैठक 14 अप्रैल को ख़त्म होने जा रहे लॉकडाउन को बढ़ाने जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को लेकर थी. मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि सूत्रों का भी कहना है कि कोरोना वायरस मामलों की संख्या में तेजी के कारण सरकार लॉकडाउन जारी रखने के लिए कई राज्यों के अनुरोधों पर विचार कर रही है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की गई इस बैठक में राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार शामिल थे.


बैठक में शामिल अन्य सदस्यों में टीएमसी के सुदीप बंद्योपाध्याय, शिवसेना के संजय राउत, बीजेडी के पिनाकी मिश्रा, एनसीपी के शरद पवार, समाजवादी पार्टी के राम गोपाल यादव, शिरोमणि अकाली दल के सुखबीर बादल, बीएसपी के एससी मिश्रा, वाईएसआरसीपी के विजय साई रेड्डी और मिथुन रेड्डी और जदयू के राजीव रंजन सिंह शामिल थे.

25 मार्च को देशव्यापी लॉकडाउन लागू होने के बाद विपक्ष के नेताओं के साथ यह प्रधानमंत्री की पहली बातचीत है, हालांकि उन्होंने गैर-एनडीए दलों द्वारा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की थी.

देश में अभी भी कोरोना वायरस के 4643 सक्रिय मामले हैं. इसी तरह 401 लोगों को ठीक किया गया है. देश में सबसे ज्यादा मामले मामले महाराष्ट्र में हैं, इसके बाद तमिलनाडु में 690 और दिल्ली में 576 मामले हैं. तेलंगाना में COVID-19 के 366 मामले और केरल में 336 मामले हैं. मामलों की बढ़ती संख्या देखकर सरकार लॉकडाउन आगे बढ़ा सकती हैं. कई राज्यों ने इसका अनुरोध किया है.  

Coronavirus: COVID-19 के फ्री टेस्ट करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछे सवाल

First published: 8 April 2020, 15:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी