Home » इंडिया » Coronavirus: Supply of non-essential goods by e-commerce companies to remain prohibited
 

सरकार की गाइड लाइन- जरूरी सामान के अलावा और कुछ भी ऑनलाइन नहीं बेच पाएंगी कंपनियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 April 2020, 18:16 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस को प्रकोप देश में तेजी से बढ़ता ही जा रहा है. कोरोना की वजह से देश में 500 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. इसके साथ ही गृह मंत्रालय की ओर से रविवार को कोरोना वायरस गाइडलाइन में बदलाव किया गया है. गृह मंत्रालय की तरह से अब साफ किया गया है कि लॉकडाउन के दौरान ई-कॉमर्स कंपनियां जरूरी सामान को छोड़कर किसी और सा मान की सप्लाई नहीं कर पाएंगी.

दरअसल, केंद्र सरकार ने कुछ दिन पहले कोरोना संकट के बीच आम लोगों को हो रही दिक्कतों को कम करने के लिए 20 अप्रैल से कुछ सेवाओं और कामकाज की अनुमति देने का फैसला किया था. लेकिन अब इसमें गृह मंत्रालय ने बदलाव किया है.

छूट दी जाने वाली लिस्ट में स्वास्थ्य सेवाओं, कृषि एवं बागवानी के कामकाजों, मछली पकड़ने, वृक्षारोपण गतिविधियों और पशुपालन को रखा गया है. वहीं, मनरेगा के तहत होने वाले कार्यों की भी अनुमति होगा. हालांकि इस दौरान लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और मास्क पहनना होगा.

बता दें कि पिछले 24 घंटों में 27 लोगों ने अपनी जान गंवा दी. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वार रविवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या आज बढ़कर 15,712 हो गई है. इस दौरान पिछले 24 घंटों मे 1,334 नए मरीज सामने आए हैं. पिछले 24 घंटों में 27 लोगों की मौत के बाद देश में कोरोना के कहर से मरने वालों की संख्या अब 507 हो चुकी है.

कोरोना वायरस के बाद भारत समेत दुनिया के कई देशों को एक और बड़ी टेंशन दे रहा चीन

कोरोना वायरसः एक और पुलिस अधिकारी की कोविड-19 से मौत, लुधियाना के ACP ने कल तोड़ा था दम

कोरोना वायरस का कहर, एक ही परिवार के 31 लोग हुए कोविड-19 पॉजिटिव, इलाके में मचा हड़कंप

First published: 19 April 2020, 18:16 IST
 
अगली कहानी