Home » इंडिया » Coronavirus update: ICU beds become full in many hospitals due to rising cases of corona virus
 

Coronavirus Update : कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण दिल्ली के कई अस्पतालों में ICU बेड्स हुए फुल `

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2020, 14:28 IST

Coronavirus Update : गुरुवार को दिल्ली में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की संख्या में रिकॉर्ड इजाफा देखा गया है. दिल्ली में प्रदूषित हवा के कारण भी मामले बढ़ रहे हैं. हालांकि देश में दैनिक मामलों में कमी आयी है. गुरुवार देर रात दिल्ली में कोरोना वायरस से 104 नई मौतें हुईं और 7,053 नए मामले सामने आये हैं. शुक्रवार तड़के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से पता चला है कि पिछले 24 घंटों में देश में 44,789 नए मामले सामने आये हैं. अब देश में कुल कोरोना वायरस के मामले 87 लाख के पार पहुंच गए हैं.

जैसे-जैसे दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ रहा है, कई अस्पतालों में आईसीयू बेड्स फुल हो गए हैं. स्थानीय सरकार के अनुरोध पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने गुरुवार को शहर के निजी अस्पतालों में से 33 को कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों के लिए अपने आईसीयू बेड का 80 फीसदी आरक्षित करने का आदेश दिया. केंद्र सरकार ने दिल्ली से सर्दी के मौसम में एक दिन में 15,000 तक के मामलों को संभालने के लिए संसाधन तैयार करने के लिए कहा है, जब शहर में प्रदूषण बढ़ जाता है और श्वसन संबंधी समस्याएं बढ़ जाती हैं.



दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने कहा ''अभी दिल्ली में कोरोना बढ़ रहा है और इसका सबसे बड़ा कारण प्रदूषण है. दिल्ली के लोगों ने पिछले महीने तक कोरोना पर काबू पा लिया था. पिछले 10-12 साल से हर साल अक्टूबर और नवंबर में पराली जलने की वजह से पूरा उत्तर भारत परेशान रहता है. इस बारे में अब तक कोई ठोक काम नहीं किया गया था, हर साल बस इस समय शोर होता है, राजनीति होती है.

उन्होंने कहा ''दिल्ली के 24 गांव में बायो-डिकम्पोज़र को छिड़कने के 20 दिन बाद वैज्ञानिकों का कहना है कि 70-95% तक डंठल गल चुका था, इससे किसान बहुत खुश हैं. अब समाधान तो निकल गया है, अब बारी सरकारों की है, क्या वो इसको लागू करेंगी?

दीपावली में पटाखों के कारण हवा और खराब होने की संभावना है. डॉक्टरों का कहना है कि PM2.5 प्रदूषक, दिल्ली की हवा में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को बढ़ा सकता है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि भारत में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले घटकर 4.85 लाख से कम हो गए हैं। राष्ट्रीय रिकवरी रेट बढ़कर 92.97% हो गया है.

Coronavirus: दिल्ली में भयावह हुई स्थिति, कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में सबसे ज्यादा मौत

First published: 13 November 2020, 14:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी