Home » इंडिया » Coronavirus vaccine is being made in India with PM-Cares fund money
 

Coronavirus: पीएम-केयर्स फंड के पैसे से बन रही है भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 May 2020, 8:12 IST

Coronavirus: सरकार ने कोरोना वायरस (COVID -19) के खिलाफ वैक्सीन विकसित करने के लिए पीएम-केयर्स (Prime Minister’s Citizen Assistance and Relief in Emergency Situations) फंड से 100 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं. जैव प्रौद्योगिकी विभाग के अनुसार देश में शैक्षणिक संस्थानों, इंडस्ट्री और स्टार्ट-अप्स द्वारा लगभग 25 कोरोना वायरस वैक्सीन के विकास पर काम किया जा रहा है. कहा गया है कि फंड आबंटन उपयोग प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के. विजयराघवन की देखरेख में किया जाएगा.

एक रिपोर्ट के अवसर जैव प्रौद्योगिकी विभाग की सचिव डॉ. रेणु स्वरूप ने कहा “पीएम- केयर्स फंड से 100 करोड़ रुपये का आवंटन कल ही घोषित किया गया है. हम अगले कुछ दिनों के भीतर इसके उपयोग करने के बारे में कदम उठाएंगे लेकिन निश्चित रूप से यह समर्थन पूरी तरह से स्वदेशी वैक्सीन बनाने के लिए है.”  गौरतलब है कि दुनियाभर में वैज्ञानिक कोरोना वायरस की जल्द से जल्द वैक्सीन बनाने के प्रयास कर रहे हैं क्योंकि वायरस से होने वाली मौतें दुनियाभर में बढ़ती जा रही हैं.  


उन्होंने बताया ''DBT-BIRAC के तहत लगभग 10 वैक्सीन परियोजनाओं को समर्थन किया जा रहा है लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि क्या ये सभी परियोजनाएं पीएम- केयर्स के पैसे के लिए भी योग्य होंगी. ये परियोजनाएं पहले से ही BIRAC से समर्थन प्राप्त कर रही हैं, लेकिन यह कहना जल्दबाजी होगी कि यह फंडिंग उनमें से किसी के पास जाएगी या नहीं. इनमें से ज्यादातर की अंतरराष्ट्रीय भागीदारी है.

10 कैंडिडेट के अलावा विभिन्न अनुसंधान समूहों से लगभग अन्य 15 इसमें शामिल हैं. ये वैक्सीन डेवलमपेंट विभिन्न चरणों में हैं और वर्तमान में समिति द्वारा इनका मूल्यांकन किया जा रहा है. इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय ने पीएम केयर्स फंड से 3100 करोड़ रुपये के आवंटन का निर्णय लिया गया था. कहा गया था कि इनमें से 2000 करोड़ रुपये की धनराशि 50 हजार वेंटिलेटर की खरीद के लिए रखी जा रही है. जबकि प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 करोड़ रुपये के इस्तेमाल की बात कही गई थी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की प्रेस कॉन्फ्रेंस- प्रवासी मजदूरों, किसानों पर मोदी सरकार का फोकस

coronavirus: भारत के कोरोना वायरस मामलों की संख्या जल्द चीन से आगे निकल सकती है

First published: 15 May 2020, 8:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी