Home » इंडिया » coronavirus : WHO admitted mistake, said - there is no community transmission in India
 

coronavirus: WHO ने मानी गलती, कहा- भारत में अभी नहीं हुआ है कोई कम्युनिटी ट्रांसमिशन

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 April 2020, 15:55 IST

coronavirus : विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अब इस बात को स्वीकार किया है कि भारत में अभी कोई कोरोना वायरस कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं है. WHO ने कहा कि पहले उसकी एक रिपोर्ट में गलती के कारण यह बात सामने आयी थी. भारत सरकार ने कहा है कि भारत में अभी कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू नहीं हुआ है.

WHO ने शुक्रवार को प्रकाशित COVID-19 की अपनी नवीनतम रिपोर्ट में गलती को सुधार लिया और कहा कि भारत "क्लस्टर ऑफ केसेस" में आया है न कि कम्युनिटी ट्रांसमिशन हुआ है. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने शुक्रवार को यह भी कहा कि भारत में अभी तक कोई कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं हुआ है और कोरोना वायरस के संक्रमण की दर कम है.


मीडिया से बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा "गुरुवार को कम से कम 16002 नमूनों का परीक्षण किया गया, जिनमें से केवल 320 लोगों को COVID-19 के लिए पॉजिटिव पाया गया. केवल 2 प्रतिशत मामलों में पॉजिटि टेस्ट आये हैं. एकत्र किए गए नमूनों के बारे में हम कह सकते हैं कि संक्रमण की दर अधिक नहीं है, हालांकि यह गतिशील है.”

WHO ने कोरोना वायरस के लिए चार ट्रांसमिशन परिदृश्य को परिभाषित किया है. कम्युनिटी ट्रांसमिशन का मतलब है कि इससे मामलों में बड़ा उछाल आ सकता है. और यह पता नहीं चलता है कि कौन संक्रमित कर रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि भारत में कोरोना वायरस मामलों की कुल संख्या 7,447 तक पहुंच गई. मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार कुल संख्या में 6,565 सक्रिय मामले हैं, 239 की मौत हुई है.

पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों संग बैठक, केजरीवाल ने 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाने की दी सलाह

First published: 11 April 2020, 15:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी